गंजबासौदा हादसा: कुएं से बच्चे को निकालने गए दो दर्जन से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

विदिशा में बच्चे को कुएं से निकालने गए करीब दो दर्जन से ज्यादा लोग गुरुवार शाम कुएं में गिर गए, हादसे में 20 लोगों को जीवित बचा लिया गया है, वहीं राहत और बचाव कार्य जारी है

Updated: Jul 16, 2021, 12:43 PM IST

गंजबासौदा हादसा: कुएं से बच्चे को निकालने गए दो दर्जन से ज्यादा लोग कुएं में गिरे, 4 की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
Photo Courtesy: AajTak

गंजबासौदा। विदिशा जिले के गंजबासौदा में गुरुवार शाम एक भीषण हादसा हो गया। यहां लाल पठार में एक कुएं में दो दर्जन से ज्यादा लोग गिर गए। फिलहाल कुएं से 20 लोगों को जीवित निकाल लिया गया है, वहीं चार लोगों की मौत हो गई है। घटनास्थल पर एनडीआरएफ का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। सीएम शिवराज सिंह ने हादसे की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिये हैं।

लाल पठार गांव के इस हृदयविदारक घटना के बारे में बताया जा रहा है कि गुरुवार शाम कुएं में एक बच्चा गिर गया था जिसे निकालने के लिए भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए। आसपास ज्यादा भीड़ के चलते कुएं के मेड़ की मिट्ठी धसक गई और वहां बचाव के लिए खड़े करीब दो दर्जन से ज्यादा लोग खुद कुएं में गिर गए। मामला सामने आने के बाद प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तत्काल राहत बचाव कार्य शुरू करने का निर्देश दिया। 

हादसे के तत्काल बाद प्रदेश के सीएम शिवराज ने घटनास्थल पर एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीमों को भोपाल से बचाव कार्य के लिए रवाना किया। साथ ही जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग को भी भोपाल से रवाना किया गया। हालांकि, रात होने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में काफी दिक्कतें आईं। खबर के अनुसार अबतक 20 लोगों को जीवित निकाल लिया गया है। वहीं चार लोगों के शव बरामद हुए हैं। 

हद तो तब हो गई जब राहत बचाव दल के 3 लोग खुद घायल हो गए। ये तब हुआ जब रेस्कयू ऑपरेशन में लगा एक ट्रैक्टर भी कुएं में गिर गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह कुआं करीब 40 फीट गहरा है। उसमें 25 से 30 फीट पानी है। रेस्क्यू के लिए कुआं खाली कराया जा रहा है। सीएम ने हादसे में मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए वहीं घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है।