जो भाजपा में जाना चाहता है जाए, मैं किसी को रोकूंगा नहीं: बागियों को कमलनाथ का संदेश

कमलनाथ ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम मोदी चीता छोडने आए लेकिन उन्होंने कुपोषण, बेरोजगारी की बात नहीं की। ये सोचते हैं कि ऐसे ईवेंट करके ये जनता का ध्यान असली मुद्दों से मोड रहे हैं।

Updated: Sep 18, 2022, 04:34 PM IST

जो भाजपा में जाना चाहता है जाए, मैं किसी को रोकूंगा नहीं: बागियों को कमलनाथ का संदेश

भोपाल। पीसीसी चीफ कमलनाथ लगातार बीजेपी पर हमलावर हैं। रविवार को भी उन्होंने सत्ताधारी दल पर जमकर निशाना साधा। पीसीसी में शंकर शाह, रघुनाथ शाह बलिदान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान कमलनाथ ने कहा कि पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम मोदी चीता छोडने आए लेकिन उन्होंने कुपोषण, बेरोजगारी की बात नहीं की। ये सोचते हैं कि ऐसे ईवेंट करके ये जनता का ध्यान असली मुद्दों से मोड रहे हैं।

कांग्रेस नेता ने पाला बदलने वाले नेताओं के सवाल पर कहा कि, 'कोई यदि कांग्रेस छोड़कर जाता है तो कांग्रेस खत्म नहीं हो जाएगी। कोई अगर जाना चाहता है तो हम किसी को रोकेंगे नहीं। जो लोग बीजेपी में अपना भविष्य देखकर जाना चाहते हैं तो जाएं मैं उन्हें अपनी कार दूंगा कि जाइए। मैं किसी की खुशामद में विश्वास नहीं करता। जो लोग कांग्रेस में काम कर रहे हैं वे, पार्टी के प्रति अपनी निष्ठा से काम कर रहे हैं।'

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की 60 छात्राओं का MMS वायरल, 8 ने की खुदकुशी की कोशिश, स्टूडेंट्स का उग्र प्रदर्शन

अरूणोदय चौबे को लेकर पूर्व सीएम ने कहा कि उन्हें तो हमने तीन-चार महीने पहले ही निष्कासित कर दिया था। पंचायत और नगरीय निकाय के चुनाव में वे कांग्रेस विरोधी काम कर रहे थे। वे अपने आपको बचाना चाह रहे हैं उनके ऊपर दबाव है। उन्होंने मुझे खुद फोन करके बताया कि कई केस लगे हैं 307 से लेकर 302 तक के मामले दर्ज हुए। पहले फर्जी केस लगाओ फिर भाजपा में शामिल करने प्रेशर बनाओ यही बीजेपी की राजनीति है। 

कांग्रेस के नेताओं पर दबाव को लेकर कमलनाथ ने कहा कि बीजेपी प्रेशर, पैसे का प्रलोभन दे सकते है। जिसे जाना है वो जाएगा ही। क्या मैं उसके घर जाऊं उसे रोकूं। दबाव डालूं? मैं किसी को दबाकर नहीं रोकना चाहता। इसमें मैं क्या कर सकता हूं। दुख की बात ये है कि आज मध्य प्रदेश में कोई ऐसा कानून नहीं है। कि जो झूठे केस बनाता है झूठी गवाही देता है उसपर कार्रवाई हो।