Jitu Patwari: ज्योतिरादित्य सिंधिया जनता के गद्दार

Jyotiraditya Scindia: कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने कहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से नहीं प्रदेश की जनता से की गद्दारी

Updated: Aug 23, 2020 07:11 AM IST

Jitu Patwari: ज्योतिरादित्य सिंधिया जनता के गद्दार

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में शामिल हुए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को गद्दार कहने का विरोध किया है। सिंधिया का बचाव कर रहे शिवराज पर पलटवार करते हुए कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस के गद्दार न हो कर के प्रदेश की जनता की नज़रों में गद्दार हैं।
पटवारी ने सिंधिया और शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए कहा है कि अपने स्वार्थ और उद्देश्य की पूर्ति के लिए सिंधिया प्रदेश के किसानों के सीने में गोली मारने वाले शिवराज सिंह चौहान से जाकर मिल गए। किसानों, दलितों और शोषित वर्ग का शोषण करने वालों के साथ मिली भगत कर सिंधिया ने प्रदेश की जनता के साथ गद्दारी की है। जिसका जवाब जनता आने वाले उपचुनाव में देगी।  पटवारी ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सिंधिया किसानों की कर्ज़ माफी का राग अलापने वाले सिंधिया, किसानों का कर्ज़ खाने वाले शिवराज सिंह चौहान से जा कर मिल गए। 

काले कपड़ों से इतना डर क्यों लगता है ? 
सिंधिया के ग्वालियर दौरे के दौरान हज़ारों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा काले झंडे दिखाने और उन्हें जेल में बंद किए जाने को लेकर जीतू पटवारी ने कहा कि आखिर सिंधिया को काले कपड़ों से डर क्यों लगता है? पटवारी ने कहा कि चूंकि सिंधिया का खुद का मन काला है इसलिए उन्हें काले कपड़े से डर लगता है। इतना ही नहीं पटवारी ने कहा कि आज ग्वालियर की जनता ने सिंधिया के खिलाफ सड़क पर मोर्चा खोल कर यह साबित कर दिया है कि अब तक सिंधिया ने जो क्षेत्र की जनता को अपना गुलाम समझ रखा था, अब वह जनता जाग गई है। और आने वाले चुनाव में जनता खुद सिंधिया की गद्दारी का जवाब देगी।

Click Gwalior: ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में कांग्रेस का पुरज़ोर प्रदर्शन

पांच महीनों बाद भी सड़क पर क्यों नहीं उतरे ? 
जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में सिंधिया को बीजेपी की मिलीभगत से सरकार गिराए और लोकतंत्र की हत्या किए हुए पांच महीने से भी ज़्यादा का समय बीत चुका है। लेकिन प्रदेश की जनता के लिए सड़क पर उतरने का दावा करने वाले सिंधिया अब तक सड़क पर क्यों नहीं उतरे ? पटवारी ने पूछा कि किसानों की कर्ज़ माफी करने का राग अलापने वाले सिंधिया अब शिवराज सिंह चौहान से किसानों की कर्ज़ माफी करने के लिए क्यों नहीं कह रहे हैं? 

अतिथि शिक्षक आत्महत्या कर रहे हैं, शिवराज चुप क्यों 

जीतू पटवारी ने कहा कि पिछले पांच महीनों में 63 अतिथि शिक्षक आत्महत्या कर चुके हैं। सिंधिया उनकी स्थिति सुधारने के लिए शिवराज सिंह चौहान से क्यों नहीं कह रहे हैं ? पटवारी ने कहा कि जन हितैषी सभी मसलों पर सिंधिया की चुप्पी बताता है कि प्रदेश की कमल नाथ सरकार गिराने के पीछे उनका उद्देश्य कुछ और था। पटवारी ने कहा कि सिंधिया खुद चाहते थे कि प्रदेश के किसानों की कर्ज़ माफी में और देरी हो, इसलिए उन्होंने किसानों और दलितों पर अत्याचार करने वाले, लाठियां और गोली बरसाने वाले शिवराज सिंह चौहान से जाकर मिल गए। जीतू पटवारी ने प्रदेश में होने वाले उपचुनावों के बारे में कहा कि कांग्रेस के आंतरिक सर्वे से बहुत अच्छे परिणाम सामने आए हैं। पटवारी ने कहा कि उपचुनाव के बाद कांग्रेस की सरकार बनते ही कमल नाथ सरकार द्वारा चलाईं गई सभी लाभकारी योजनाओं को दोबारा शुरू किया जाएगा।