Jyotiraditya Scindia: सिंधिया ने कहा, 'मैं कुत्ता हूं' कमलनाथ को दी काट लेने की धमकी

MP By Elections: सीएम शिवराज का 'मैं कमीना हूं' वाला बयान वायरल होने के बाद अब सिंधिया ने कहा 'मैं कुत्ता हूं' सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

Updated: Nov 01, 2020, 09:32 AM IST

Jyotiraditya Scindia: सिंधिया ने कहा, 'मैं कुत्ता हूं' कमलनाथ को दी काट लेने की धमकी
file photo

भोपाल। "मैं कुत्ता हूं क्योंकि कुत्ता अपने मालिक और अपने दाता की रक्षा करता है.. हां कमलनाथ जी मैं कुत्ता हूं क्योंकि अगर कोई भी व्यक्ति मेरे मालिक को उंगली दिखाए .. तो कुत्ता काटेगा उसे" यह बात बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्य प्रदेश में एक जनसभा में कही है। बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस नेताओं को काट लेने की धमकी भी दे डाली है। सीएम शिवराज का मैं कमीना हूं वाले बयान के बाद सिंधिया का मैं कुत्ता हूं वाला बयान खूब वायरल हो रहा है। महाराज और श्रीमंत की उपाधियों से नवाज़े जानेवाले सिंधिया आखिर बीजेपी में जाकर कुत्ता, कौवा आदि उपाधियों से खुद ही खुद को क्यों पुकारने लगे, ये सभी को हैरत में डाल रहा है। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया अशोकनगर के शाढ़ौरा में बीजेपी प्रत्याशी जजपाल सिंह जज्जी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करने गए थे। इस दौरान वह कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भड़क गए और उन्होंने कहा, 'कमलनाथ जी मुझे कुत्ता कहते हैं, हां मैं एक कुत्ता हूं, क्योंकि मैं लोगों का सेवक हूं, जनता मेरा मालिक है। क्योंकि एक कुत्ता अपने मालिक की रक्षा करता है और अगर कोई भ्रष्ट और गैर-इरादतन नीतियां लाता है तो यह कुत्ता उस व्यक्ति पर हमला करता है। हां मैं कुत्ता हूं क्योंकि मेरा मालिक जनता है और मैं उसकी रक्षा करता हूं।' 

सिंधिया ने आगे कहा कि 'अन्नदाताओं, युवाओं, महिलाओं के लिए जब मैंने आवाज उठाई तो मुझे सड़क पर उतरने को कह दिया गया। सिंधिया परिवार का इतिहास रहा है कि 'प्राण जाए पर वचन न जाए' - मैं सिर्फ अकेला सड़क पर नहीं उतरा। बल्कि जनता के साथ वादाखिलाफी करनेवाली सरकार को भी सड़क पर ला दिया।'

और पढ़ें: Mp by Election: सांची में बोले शिवराज ‘मैं कमीना हूं’

क्यों कही यह बात ?

दरअसल, शुक्रवार को अशोकनगर में आयोजित एक सभा के दौरान आचार्य प्रमोद कृष्णन ने बिना नाम लिए कहा था कि, 'जिस तरह से एक पिल्ला की रक्षा के लिए कुत्ता आगे आ जाता है, उसी तरह से यहां के विधायक को कार्रवाई से बचाने के लिए कुत्ता आ गया था।'  इस दौरान मंच पर कमलनाथ भी मौजूद थे।

शिवराज ने कहा था 'मैं कमीना हूं'

बता दें कि दो दिन पहले ही सांची में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा था कि 'मैं कमीना हूं'। शिवराज ने कमलनाथ को सेठ बताया था और तंज भरे लहजे में खुद को कमीना बताया था। उन्होंने कहा था, 'मैं कमीना हूं इसलिए किसानों की सम्मान निधि बढ़ाई। मैं कमीना हूं, इसलिए लाखों गरीबों को आवास मिले। मैं कमीना हूं, इसलिए संबल योजना का लाभ गरीबों को मिल रहा है।

और पढ़ें: निहत्थे किसानों पर गोलियां चलवानेवाले शिवराज के लिए ना करें वोट, ब्यावरा में गरजे सचिन पायलट

सिंधिया इसके पहले खुद को कौआ भी बता चुके हैं

गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है कि सिंधिया ने अपनी तुलना किसी जानवर या पक्षी से की हो। बीते कुछ महीनों में उन्होंने कभी खुद को टाइगर तो कभी कौआ बताया है। शिवराज कैबिनेट विस्तार के दौरान उन्होंने मीडिया से कहा था कि मैं टाइगर हूं.. टाइगर अभी ज़िदा है। चुनावी मौसम आते आते सिंधिया ने टाइगर राग छोड़कर अपने को कौआ और कुत्ते की उपाधि दे डाली।  लगभग दो हफ्ते पहले उन्होंने सुरखी में बीजेपी प्रत्याशी गोविंद सिंह राजपूत के पक्ष में एक रैली के दौरान कहा था कि मैं कौआ हूं। तब उन्होंने एक फिल्मी गाने की लाइनें सुनाते हुए कहा था, झूठ बोले कौआ काटे, काले कौऐ से डरियो। उन्होंने बताया था कि मैं वही काला कौआ हूं और उसी ने कांग्रेस को काटा है।