Kamal Nath: लॉकडाउन सिर्फ जनता के लिए, बीजेपी का तो राजनीतिक उत्सव

BJP Politics: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने कहा कि सारे नियम कानून जनता के लिए, बीजेपी नेताओं पर लागू नहीं होता कोई नियम कानून

Updated: Aug 22, 2020 10:05 PM IST

Kamal Nath: लॉकडाउन सिर्फ जनता के लिए, बीजेपी का तो राजनीतिक उत्सव
Photo Courtesy: DNA india

भोपाल। प्रदेश में कोरोना का संक्रमण काबू होने का नाम नहीं ले रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी के राजनीतिक कार्यक्रम अभी भी जारी हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने बीजेपी के इस रवैए की कटु आलोचना की है। कमल नाथ ने बीजेपी के राजनीतिक कार्यक्रमों पर निशाना साधते हुए कहा है कि एक तरफ जहां प्रदेश में कोरोना के मामले 50 हज़ार के पार हो चुके हैं। तो वहीं बीजेपी के नेताओं का राजनीतिक उत्सव अब तक जारी है। 

कमल नाथ ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि 'सत्ता का ऐसा दुरुपयोग पहली बार देखा, जहाँ आमजन के लिये ही सिर्फ़ नियम, धार्मिक स्थलों के लिये व धार्मिक आयोजनो पर भी रोक लेकिन भाजपा नेताओ के लिये कोई नियम नहीं, उन्हें हर कार्यक्रम के लिये पूरी छूट? कोरोना संक्रमण भले बढ़ता रहे?'            

कमल नाथ ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा है कि सारे नियम कानून जनता के लिए हैं लेकिन बीजेपी के नेताओं पर कोई नियम कानून लागू नहीं होता। कमल नाथ ने प्रदेश में बेकाबू होते कोरोना के लिए बीजेपी के नेताओं को ज़िम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि 'इस कोरोना महामारी में पूरे प्रदेश में जनता के लिये तो लॉकडाउन रहा लेकिन भाजपा के राजनैतिक उत्सव इस दौरान  निरंतर चलते रहे, प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़ता गया, अब हम 50 हज़ार के पार पहुँच गए है।' 

कमल नाथ ने कहा है कि 'गणेश चतुर्थी के उत्सवों के आयोजन के लिये कोरोना महामारी को देखते हुए आमजन के लिये तो कोई छूट नहीं लेकिन इस दौरान भी भाजपा के राजनैतिक उत्सव - आयोजन जारी रहेंगे।' कमल नाथ ने बीजेपी द्वारा आयोजित राजनीतिक कार्यक्रमों पर सवाल खड़ा करते हुए पूछा है कि रविवार के लॉक डाउन में भी बीजेपी को खुली छूट कैसे दी जा रही है? 

कमल नाथ ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि 'सत्ता का ऐसा दुरुपयोग पहली बार देखा , जहाँ आमजन के लिये ही सिर्फ़ नियम , धार्मिक स्थलों के लिये व धार्मिक आयोजनो पर भी रोक लेकिन भाजपा नेताओ के लिये कोई नियम नहीं , उन्हें हर कार्यक्रम के लिये पूरी छूट ?कोरोना संक्रमण भले बढ़ता रहे ?'            

ज्ञात हो कि प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या 50 हज़ार के पार पहुंच गई है। अब तक प्रदेश में 50,640 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 1,185 लोग कोरोना के कारण ज़िन्दगी से हाथ धो बैठे हैं। हालांकि गनीमत है कि प्रदेश में 38,527 कोरोना के मरीज़ ठीक हो कर अपने घरों की ओर लौट चुके हैं।