ग्वालियर: अल्पसंख्यक परिवार के 11 लोगों ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छा मृत्यु, बोले- जीना मुश्किल हो गया है

इच्छा मृत्यु की मांग करने वाले परिवार का कहना है दबंगों ने पुश्तैनी जमीन पर कब्जा कर रखा है, जान से मारने की धमकी देते हैं, जीना मुश्किल कर रखा है

Updated: Apr 10, 2022, 02:02 PM IST

ग्वालियर: अल्पसंख्यक परिवार के 11 लोगों ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छा मृत्यु, बोले- जीना मुश्किल हो गया है

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक अल्पसंख्यक परिवार के 11 लोगों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से इच्छा मृत्यु की मांग की है। पीड़ित परिवार का कहना है कि दबंगों ने उनका जीना मुश्किल कर रखा है। तहसीलदार और राजस्व विभाग की मिलीभगत से पुस्तैनी जमीन पर कब्जा जमा लिया है और हमेशा जान से मारने की धमकी देते हैं।

ग्वालियर के घाटीगांव तहसील अंर्तगत रायपुर कला ग्राम निवासी शाबिर खान ने बताया कि उसके परिवार की संयुक्त 1 बीघा 2 विस्वा कृषि भूमि है। जिसका सर्वे क्रमांक 1584 है। संजय अग्रवाल उर्फ बल्लू व उसके कुछ साथियों ने उस कृषि भूमि पर कब्जा कर लिया गया। उन्होंने जमीन के सीमांकन के लिए दो महीने पहले ही तहसीलदार के यहां आवेदन लगा दिया था, लेकिन उनके द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। 

यह भी पढ़ें: हिंदू संगठन के उपद्रवियों ने तोड़ी हनुमार मंदिर के सामने की दीवार, पुलिस ने नहीं की कोई कार्रवाई

पीड़ित परिवार के मुताबिक आरोपी ने अवैध कालोनी का निर्माण कर प्लॉट काटकर अन्य व्यक्ति को फर्जी दस्तावेज दिखाकर विक्रयनामा कर दिया। जब आपत्ति जताई तो संजय अग्रवाल धमकाने लगे और कहा कि जान से मार देंगे। यह सब राजस्व विभाग की मिलीभगत से किया गया है। शाबिर के मुताबिक उनके परिवार के पास जीवन यापन के लिए यही एक कृषि भूमि है, अगर यह जमीन भी चली जाती है तो पूरे परिवार के पास आत्महत्या के अलावा कोई चारा नहीं है।

शाबिर के मुताबिक तहसीलदार और राजस्व विभाग की मिली भगत से पूरा खेल खेला जा रहा है। संजय अग्रवाल और उसके साथी घर आकर धमका रहे हैं। अब तो जीना तक मुश्किल हो गया है। यदि न्याय नहीं मिला तो पूरा परिवार एक साथ अपनी जान दे देगा। हमारे पास आत्महत्या के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है इसलिए राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी है।

यह भी पढ़ें: इंदौर में अब रेन वाटर हार्वेस्टिंग अनिवार्य, 1500 स्क्वायर फीट और उससे बड़े मकानों में लगाना होगा सिस्टम

इच्छा मृत्यु मांगने वालों में हसीना बेबा, अनवर खान, शाबिर खान, जाकिर खान, शाकिर खान, दिलशेख खान, कौसर खान, नजमा खान, फरीद खान, सीमा खान और शबाना खान शामिल है। मामले पर ग्वालियर एएसपी सतेन्द्र सिंह तोमर का कहना है कि अभी मामला सामने आया है। पता करने के बाद पीड़ित पक्ष की मदद की जाएगी।