महिला सशक्तिकरण की उड़ी धज्जियां, निर्वाचित महिला प्रतिनिधियों की जगह पति, पिता और देवरों ने ली शपथ

पंचायतों में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण‌, निर्वाचित महिलाओं के बजाए घर वाले ले रहे हैं शपथ, सागर और दमोह में महिला सशक्तिकरण की उड़ी धज्जियां

Updated: Aug 05, 2022, 03:14 PM IST

महिला सशक्तिकरण की उड़ी धज्जियां, निर्वाचित महिला प्रतिनिधियों की जगह पति, पिता और देवरों ने ली शपथ

सागर/दमोह। महिला सशक्तिकरण के लिए केंद्र और राज्य सरकारें कई योजनाएं और कार्यक्रम चला रही है।पंचायती राज में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए सरकार ने 50 फीसदी पद महिलाओं के लिए आरक्षित किए हैं। हालांकि, ग्रामीण अंचलों में सरकार की तमाम कोशिशों पर पानी फेरा जा रहा है। मध्य प्रदेश के सागर और दमोह से ऐसा ही मामला सामने आया है जहां निर्वाचित महिला प्रतिनिधियों की जगह पिता, देवर और पतियों ने शपथ ली।

दरअसल, पंचायतों में आधे पदों पर महिलाएं चुनकर आईं तो जरूर लेकिन सिर्फ नाम के लिए। नामांकन जमा करने से लेकर शपथ लेने तक उनके परिजन ही सक्रिय हैं। सागर के मूड़रा जरुआखेड़ा पंचायत में 20 में से 10 पद पर महिला पंच निर्वाचित हुई हैं। नई ग्राम सरकार के प्रतिनिधियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई तो इसमें सभी 10 महिला पंच के परिजन ही शामिल हुए। महिला पंच घरों से नहीं निकलीं। 

यह भी पढ़ें: मेयर पत्नी की कुर्सी पर बैठा BJP नेता, फोटो वायरल होने पर बोला- पति परमेश्वर का रूप होता है

पंचायत सचिव राजाराम चढ़ार, सहायक सचिव जयकुमार सोनी ने इन्हें शपथ लेने से रोकना तो दूर, कैमरे के सामने शपथ भी दिला दी। नवनिर्वाचित उपसरपंच राम सिंह ठाकुर ने सभी पंच पति/पिता/देवरों को गुलाल लगाकर और माला पहनाकर स्वागत किया। मामले पर जब पंचायत सचिवों से इस बारे में सवाल किया गया, तो वह गोलमोल जवाब देते नजर आए। 

इसी तरह का मामला जैसीनगर विकासखंड मुख्यालय की ग्राम पंचायत जैसीनगर से भी सामने आया है। यहां गुरुवार को नवनिर्वाचित सरपंच, उप सरपंच और पंच का शपथ ग्रहण समारोह ग्राम पंचायत कार्यालय में आयोजित किया गया था। जैसीनगर ग्राम पंचायत में पंच, सरपंच मिलाकर कुल 21 सदस्य निर्वाचित हुए हैं जिनमें से 10 महिलाएं पंच निर्वाचित हुई हैंं। शपथ ग्रहण में 10 में से 3 महिलाएं उपस्थित रही। यहां 1 महिला के देवर ने शपथ ली, 1 महिला के पिता ने शपथ ली और 2 महिला पंच के पतियों ने शपथ ली। बाकी प्रतिनिधि अनुपस्थित रहे। यहां पंचायत सचिव आसाराम साहू ने देवर, पिता और पतियों को शपथ दिलाई।

उधर दमोह जिले से भी ऐसा ही वीडियो सामने आया है। दमोह के हटा जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत गैसाबाद की निर्वाचित महिला सरपंच ललिता अहिरवार के पति शपथ लेते दिखे, जिसके बाद लोग सरपंच पति का स्वागत करते नजर आए। ललिता सरपंच पद पर निर्वाचित हुई हैं, लेकिन यहां पर ग्राम पंचायत सचिव धुन सिंह राजपूत ने महिला सरपंच के पति विनोद अहिरवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिला दी।