गैस सिलिंडर के बढ़े दामों को लेकर सड़कों पर उतरीं भोपाल की महिलाएं, केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ किया प्रदर्शन

मध्य प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष विभा पटेल के नेतृत्व में मूल्यवृद्धि के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, गैस सिलिंडर लेकर महिलाओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे

Updated: Mar 24, 2022, 06:21 PM IST

गैस सिलिंडर के बढ़े दामों को लेकर सड़कों पर उतरीं भोपाल की महिलाएं, केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ किया प्रदर्शन

भोपाल। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद अब पेट्रोल-डीजल और एलपीजी सिलिंडर के दामों में बढ़ोतरी शुरू हो गई है। केंद्र सरकार ने रसोई गैस के दाम 50 रुपए बढ़ा दिए हैं। इससे आम लोगों के किचन का बजट गड़बड़ा गया है। मूल्यवृद्धि के खिलाफ राजधानी भोपाल में महिलाओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया है।

गुरुवार को राजधानी भोपाल स्थित कांग्रेस मुख्यालय के बाहर सैंकड़ों की संख्या में गृहणियों को लेकर महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष विभा पटेल सड़क पर उतरीं। इस दौरान उन्होंने महंगाई खासकर सिलिंडर में के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है। प्रदर्शन में महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

यह भी पढ़ें: MP सरकार को शराब ठेकेदारों की चेतावनी, नई नीति में बदलाव करें वरना नहीं खुलेंगी दुकानें

इस दौरान महिलाएं "सखी सैया तो खूबई कमात है..महंगाई डायन खात जात है" जैसे गीत गाते हुए पैदल मार्च किया। इस दौरान महिलाएं अपने साथ रसोई गैस सिलिंडर हाथों में लिए थीं। महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष संतोष कसाना ने कहा कि प्रदेश में निरंतर महंगाई बढ़ गई है। खाद्य तेलों से लेकर मसालों के दामों में 15 प्रतिशत तक बढ़ोत्तरी हो गई है। आम लोगों का जीवन-यापन करना मुश्किल हो गया है। 

भाजपा की केंद्र व राज्य की सरकारें पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस सिलिंडर के बढ़ते दाम पर रोक नहीं लगा पा रही हैं। केंद्र में जब कांग्रेसनीत यूपीए सरकार थी, तब पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके मंत्री साइकिल लेकर विधानसभा तक पहुंच कर विरोध जताते थे, लेकिन मोदी सरकार साल 2014 से बनी है, तभी से पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस के दाम लगातार बढ़ते जा रहे है, मगर भाजपा के नेताओं ने चुप्पी साध ली है।