मंडला जेल का कम्पाउंडर 7 हजार रुपए की घूस लेते गिरफ्तार, लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा

आरोपी कम्पाउंडर ने पथरी से पीड़ित कैदी को समय पर दवाएं देने के बदले मांगी रिश्वत, जबलपुर लोकायुक्त ने कैदी के परिजन की शिकायत पर की कार्रवाई

Updated: Aug 19, 2021, 07:59 PM IST

मंडला जेल का कम्पाउंडर 7 हजार रुपए की घूस लेते गिरफ्तार, लोकायुक्त पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा
Photo courtesy: Naidunia

जबलपुर। मंडला जेल के कम्पाउंडर को कैदी का इलाज करने के बदले 7 हजार की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। मंडला जेल में रह रहे विचाराधीन कैदी को पथरी है, उसका समय पर इलाज और दवाएं देने के लिए जेल के कम्पाउंडर मनोज डोंगरे ने उसके परिजनों से पैसे मांगे थे।

जबलपुर लोकायुक्त से मिली जानकारी के अनुसार जंतिपुर मंडला का निवासी रवींद्र पटेल ने इस मामले की शिकायत दो दिन पहले लोकायुक्त में थी। जिसके बाद लोकायुक्त ने गुरुवार को आरोपी कम्पाउंडर को रंगे हाथ पैसे लेते गिरफ्तार किया है। दरअसल फरियादी का जीजा संजय सिंगौर में किसी मामले में मंडला जेल में विचाराधीन कैदी है। कैदी को पथरी है, उसका इलाज जेल अस्पताल में हो रहा है। फरियादी का आरोप है कि कम्पाउंडर ने इलाज करने और वक्त पर मेडिसिन देने के बदले 7 हजार रुपए की डिमांड की थी।  

और पढ़ें: देवास में अवैध शराब तस्करी का खुलासा, पुलिस ने 33 पेटी देसी शराब के साथ एक आरोपी को किया गिरफ्तार

आरोपी कम्पाउंडर ने कैदी के रिश्तेदार को गुरुवार को मंडला के रेडक्रास गेट के पास रुपए लेकर बुलाया था। जैसे ही उसने हाथ में पैसे लिए तभी लोकायुक्त पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पैसे छोंड़कर भागने की कोशिश की लेकिन लोकायुक्त की सतर्कता से उसे दबोच लिया गया। आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है।