भोपाल के बिज़नेसमैन फारुख सरकारी की संदिग्ध हालात में मौत, कारोबार में घाटे के कारण ख़ुदकुशी का शक

ओएफएस एविएशन के डायरेक्टर थे फारुख सरकारी, जहर खाकर आत्महत्या करने का शक, पायलट के तौर पर रिटायर होने के बाद शुरू किया था किराए पर हेलिकॉप्टर देने का बिज़नेस

Updated: Feb 18, 2021, 02:42 PM IST

भोपाल के बिज़नेसमैन फारुख सरकारी की संदिग्ध हालात में मौत, कारोबार में घाटे के कारण ख़ुदकुशी का शक
Photo Courtesy: Bhaskar

भोपाल। ओएफएस एविएशन कंपनी के संचालक फारुख सरकारी की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। कहा जा रहा है कि बुधवार को उन्होंने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान आज उन्होंने बंसल अस्पताल में अंतिम सांस ली।

फारूख को पहले शारदा अस्पताल ले जाया गया था, जहां से उन्हें गंभीर हालत में बंसल अस्पताल रेफर कर दिया गया था। वहां उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। यह पूरी तरह साफ नहीं है कि अगर उन्होंने जहर खाकर खुदकुशी की, तो उसकी वजह क्या थी? हालांकि यह बात ज़रूर सामने आ रही है कि उन्हें बिजनेस में घाटा हुआ था, जिससे वे उबर नहीं पाए थे।

फारुख संजय कॉम्पलेक्स में अपनी पत्नी और मां के साथ रहते थे। उनके बच्चे नहीं है। उन्होंने अपने भाई के बच्चों को साथ रखकर पढ़ाया था। फारुख के घर ऑफिस का एक कर्मचारी पवन भी साथ रहता था। खबरों में बताया जा रहा है कि जहर खाने के बाद उन्होंने उसी कर्मचारी को आवाज देकर बुलाया था। उसी की मदद से उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। एक सवाल यह भी है कि अगर फारुख ने खुदकुशी के इरादे से ज़हर खाया था, तो उन्होंने अपने कर्मचारी को बुलाकर इसकी जानकारी क्यों दी थी?  

फारुख पायलट थे, रिटायरमेंट के बाद उन्होंने ओएफएस एविएशन कंपनी शुरू की थी, जो किराए पर हेलिकॉप्टर मुहैया कराने का काम करती थी। खबरों की मानें तो कोरोना काल में उनकी एविएशन कंपनी घाटे में चल रही थी। जिसके बाद से वे थोड़े परेशान थे। कोरोना लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी उनका बिजनेस रफ्तार नहीं पकड़ पाया, उनके कारोबार में बड़ा नुकसान हुआ है।

फारुख को एक्टिंग का भी शौक था। मशहूर फिल्मकार गुलजार की कई फिल्मों में भी छोटे-छोटे रोल भी निभा चुके हैं। उनके जानने वालों की मानें तो वे धार्मिक और मिलनसार व्यक्ति थे। कमला नगर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है।