वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल का निधन, पूर्वमुख्यमंत्री कमलनाथ ने जताया शोक

पूर्वमंत्री रामेश्वर पटेल सहकारिता के पितामह कहे जाते थे। उन्होंने सहकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण काम किया। उनका अंतिम संस्कार बिचौली मर्दाना में किया जाएगा।

Updated: Apr 11, 2021, 10:02 AM IST

वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल का निधन, पूर्वमुख्यमंत्री कमलनाथ ने जताया शोक
Photo courtesy: naiduniya

इंदौर। मध्यप्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री रामेश्वर पटेल का लंबी बीमारी के चलते शनिवार देर रात निधन हो गया।उनके निधन पर पूर्वमुख्यमंत्री कमलनाथ ने दुःख जताया है।

बताया जा रहा है वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल लंबे समय से बीमार चल रहे थे।जहां उन्हें उपचार के लिए इंदौर के डीएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सांस लेने में तकलीफ़ हो रही थी, देर रात इलाज़ के दौरान अस्पताल में अंतिम सांस ली। आज सुबह 11.30बजे बिचौली मर्दाना में अंतिम संस्कार किया जाएगा।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल क्षत्रिय कलौता समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं।1943 को जन्मे रामेश्वर पटेल अर्जुनसिंह के कार्यकाल में प्रदेश के कृषि राज्य मंत्री रह चुके हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर पटेल सहकारिता कृषि संसाधनों में प्रभाव था इसके चलते उनकी छवि किसान नेता की रही।वे तीन बार मध्यप्रदेश राज्यसहकारी बैंक के अध्यक्ष रहे। उन्होंने कांग्रेस की सबसे छोटी इकाई सेवादल से जुड़कर काम किया, बाद में उन्हें प्रदेश कांग्रेस में उपाध्यक्ष की बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई। हालही में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर पटेल का स्वास्थ्य हाल जानने के लिए पूर्वमुख्यमंत्री कमलनाथ इंदौर पहुँचे थे। इसी दौरान लिफ़्ट गिरने का हादसा हो गया था।

गौरतलब है पूर्व मंत्री रामेश्वर पटेल इंदौर के देपालपुर से 3 बार के विधायक रहे हैं।उन्होंने कई महत्वपूर्ण पद सम्भाला है।उन्होंने सहकारिता के माध्यम से मालवा में कांग्रेस की जड़ों को मजबूत करने का काम किया है। इसके अलावा उनके पुत्र सत्यनारायण पटेल देपालपुर से दो बार विधायक रह चुके हैं।

पूर्वमंत्री के निधन पर पूर्वमुख्यमंत्री कमलनाथ ने दुःख जताया है।उन्होंने कहा "पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री रामेश्वर पटेल के दुखद निधन का समाचार प्राप्त हुआ है। परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं। सहकारिता, कृषि एवं सामाजिक क्षेत्र में उनके द्वारा किए गए काम अविस्मरणीय है। उनका निधन कांग्रेस परिवार के लिए अपूर्णीय क्षति है"

उल्लेखनीय है कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर पटेल राजनीति के बड़े पदों में रहते हुए विनम्र और सहज थे। उन्हें घूमने का बहुत शौक था 20 से ज्यादा देशों की यात्रा की है।1981 में राजश्री प्रोडक्शन की फ़िल्म जियो तो ऐसे जियो में अभिनय भी किया था। फ़िल्म की शूटिंग इंदौर के देवगुराड़िया और बिचौली मर्दाना में हुई थी।