भोपाल से सटे गांवों का फैसला, वैक्सीन नहीं लगवाई तो किया जाएगा लोगों का बहिष्कार

भोपाल से सटे रातीबड़, सरवर, सिकंदराबाद और मुंडला पंचायतों में चस्पा किए गए हैं चेतावनी भरे पोस्टर, 18 गांवों की आबादी 28 हज़ार से अधिक, चार हजार लोगों ने लगवाई है अब तक कोरोना की वैक्सीन

Publish: Jun 10, 2021, 10:12 AM IST

भोपाल से सटे गांवों का फैसला, वैक्सीन नहीं लगवाई तो किया जाएगा लोगों का बहिष्कार
Photo Courtesy: Twitter

भोपाल। गांवों में अब कोरोना का समाना अब खुद गांव के लोग कर रहे हैं। भोपाल से सटे करीब 18 गांवों में लोगों से वैक्सीन लगवाने की गुज़ारिश की जा रही है। ऐसा न करने वाले लोगों का सामाजिक तौर पर बहिष्कार करने की चेतावनी भी दी जा रही है। चेतावनी भरे ये पोस्टर जगह जगह चस्पा भी किए जा रहे हैं। 

यह अभियान भोपाल से सटे चार पंचायतों में चलाया जा रहा है। रातीबड़, सरवर, सिकंदराबाद और मुंडला पंचायतों में लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील की जा रही है। खुद को और समाज को भी कोरोना संक्रमण से मुक्त करने के लिए लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : टीका लेने वाले लोगों का एमपी पुलिस कर रही है सम्मान, लोगों को लगाया देशभक्ति का बैज

भोपाल से सटे इन चार पंचायतों में कुल 18 गांव आते हैं। गांवों की आबादी भी 28 हज़ार के करीब है। अब तक करीब चार हजार लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं। लेकिन अधिकांश लोग वैक्सीन के प्रति पनपे भय की वजह से वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं। लोगों को इस बात का डर है कि वैक्सीन लगवाने से नपुंसक हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें : राजस्थान में सियासी संकट की अटकलें फिर हुईं शुरू, नेता प्रतिपक्ष ने कहा, न जाने कब क्या हो जाए

लोगों के भीतर से इस डर को निकालने के लिए पंचायतों के सरपंच खुद लोगों को वैक्सीन के प्रति जागरूक कर रहे हैं। साथ ही उन्हें वैक्सीन न लगवाने पर चेतावनी भी दी जा रही है। जगह जगह चस्पा किए गए पोस्टरों पर यह चेतावनी दी जा रही है कि अगर किसी ने वैक्सीन नहीं लगवाई, तब पूरा गांव उसका बहिष्कार कर देगा। गांव का कोई भी व्यक्ति वैक्सीन नहीं लगवाने वाले लोगों से किसी प्रकार का संबंध नहीं रखेगा।