उज्जैन के बॉयज हॉस्टल में हुई गुंडागर्दी, बाहरी हमलवारों ने छात्रों पर डंडों और बेल्ट से किया हमला

यह घटना क्रिसमस की रात के बताया जा रहा है, दांगी समाज के हॉस्टल में रह रहे छात्रों पर अज्ञात हमलावरों ने हमला कर दिया, पुलिस ने अज्ञात आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू की है, लेकिन दांगी समाज के प्रतिनिधि पुलिस पर हमलवारों को बचाने का आरोप लगा रहे हैं

Publish: Dec 29, 2021, 09:19 AM IST

उज्जैन के बॉयज हॉस्टल में हुई गुंडागर्दी, बाहरी हमलवारों ने छात्रों पर डंडों और बेल्ट से किया हमला
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

उज्जैन। उज्जैन के एक बॉयज हॉस्टल में अचानक दो दर्जन अज्ञात लोग दाखिल हो गए और आधी रात को छात्रों पर हमला कर दिया। लगभग दो दर्जन की संख्या में हमलवारों ने हॉस्टल में रह रहे छात्रों को लाठी डंडों, बेल्ट और लात घूसों से पीट डाला। घटना के बाद हॉस्टल सहित आसपास के क्षेत्र में भय का माहौल व्याप्त हो गया है। 

यह घटना क्रिसमस की रात की बताई जा रही है। आधी रात को कुछ हमलावर अचानक ही जीवाजीगंज थाना क्षेत्र स्थित दांगी समाज की धर्मशाला में बॉयज हॉस्टल विंग में पहुंच गए और भीतर गुंडागर्दी पर उतारू हो गए। सभी पीड़ित छात्र धार ज़िले के रहने वाले हैं। 

छात्रों को बेरहमी से पीटे जाने की खबर लगने के बाद दांगी समाज के प्रतिनिधि हॉस्टल में पहुंचे। वहीं पुलिस भी घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गई। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के ऊपर प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू की है। 

मंगलवार को दांगी समाज के कुछ प्रतिनिधियों ने एक बार फिर इस घटना के सिलसिले में पुलिस को जल्द से जल्द कार्रवाई करने के लिए आग्रह किया। इस पूरे मामले में भूरा नामक हमलावर का नाम सामने आ रहा है। दांगी समाज का आरोप है कि पुलिस घटना की रात भी देर से हॉस्टल पहुंची थी और हमलवारों को बचाने की कोशिश कर रही है। 

दांगी समाज के प्रतिनिधियों ने उज्जैन एसपी से इस मामले में संज्ञान लेकर कार्रवाई करने की मांग की है। इसके साथ ही यह चेतावनी भी दी गई है कि अगर पुलिस ने आरोपियों पर कार्रवाई करने की जहमत नहीं उठाई, तब प्रदेश भर से दांगी समाज इकट्ठा हो कर आंदोलन करेगा।