जीवाजी यूनिवर्सिटी में हंगामा, NSUI पर पुलिस ने चलाई लाठियां, वॉटर केनन का किया उपयोग

ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार और अनियमितता के खिलाफ NSUI का प्रदर्शन, पुलिस ने छात्रों को खदेड़ा, कांग्रेस ने बीजेपी पर लगाया छात्रों की आवाज दबाने का आऱोप

Updated: Jan 11, 2022, 06:55 PM IST

जीवाजी यूनिवर्सिटी में हंगामा, NSUI पर पुलिस ने चलाई लाठियां, वॉटर केनन का किया उपयोग
Photo Courtesy: bhaskar

ग्वालियर। जीवाजी विश्वविद्यालय में NSUI ने प्रदर्शन किया। छात्र संगठन ने विश्वविद्यालय के नव नियुक्त कुलपति अविनाश तिवारी को हटाने मांग की। यहां व्याप्त अनियमितता और भ्रष्टाचार के खिलाफ मंगलवार को बड़ी संख्या में छात्र विश्वविद्यालय का घेराव करने पहुंचे थे। पुलिस ने पहले से ही बैरिकेड्स लगा रखे थे। प्रदर्शनकारी छात्र विश्वविद्यालय में प्रवेश करना चाह रहे थे, लेकिन पुलिस ने उनपर वाटर केनन से पानी की बौछार की और छात्रों पर लाठी चार्ज किया। इस दौरान कई छात्र घायल हो गए। पुलिस और छात्रों में झड़प भी हुई। पुलिस ने नारेबाजी कर रहे करीब दो दर्जन से ज्यादा छात्रों को गिरफ्तार कर लिया।

NSUI की  मांग थी कि विश्विद्यालय में भ्रष्टाचार, अनियमितता और अव्यवस्था है, इसलिए यहां धारा-52 लगाई जाए। छात्रों की मांग है कि जीवाजी विश्वविद्यालय की जिम्मेदारी राज्यपाल अपने हाथ में लें। साथ ही भ्रष्ट कुलपति को हटाकर नए कुलपति को भेजा जाए।

प्रदर्शनकारी छात्रों विश्वविद्यालय के गेट पर ही रोक लिया गया। नाराज छात्रों ने बैरीकेड्स लांघने की कोशिश की। छात्रों के नहीं मानने पर पुलिस ने वॉटर कैनन से पानी की बौछार की। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर बिना परमीशन प्रदर्शन करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है की बीजेपी सरकार छात्रों पर बल प्रयोग कर युवा छात्रों की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है।