कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: पारदर्शिता की चिंता करने वाले MPs को मिस्त्री का जवाब, आकर सूची देख सकते हैं

शशि थरूर, कार्ति चिदंबरम और मनीष तिवारी सहित पांच सांसदों ने चुनाव प्रक्रिया में "पारदर्शिता, निष्पक्षता" की मांग करते हुए मधुसूदन मिस्त्री को पत्र लिखा था, अब उनका जवाब सामने आ गया है और शशि थरूर ने इसे संतोषजनक बताया

Updated: Sep 11, 2022, 11:17 AM IST

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: पारदर्शिता की चिंता करने वाले MPs को मिस्त्री का जवाब, आकर सूची देख सकते हैं

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में पारदर्शिता की चिंता करने वाले सांसदों को मधुसूदन मिस्त्री ने जवाब भेजा है। उन्होंने पारदर्शिता के लिए मतदाता सूची सार्वजनिक करने की मांग करने वाले पार्टी के 5 सांसदों को लिखे पत्र में चुनाव की पूरी प्रक्रिया बताई है। पत्र के जवाब को शशि थरूर ने संतोषजनक बताया है। ऐसे में पारदर्शिता को लेकर कांग्रेस पार्टी का अंदरूनी विवाद सुलझता हुआ नजर आ रहा है।

दरअसल, शशि थरूर, मनीष तिवारी, प्रद्योत बारदोलोई, अब्दुल खालिक और कार्ति चिदंबरम ने मिस्त्री से कांग्रेस के 9000 प्रतिनिधियों की मतदाता सूची सार्वजनिक करने को मांग की थी। साथ ही सासदों ने चिंता व्यक्त करते हुए ये भी कहा था कि जब तक ऐसा नहीं किया जाता है, तब तक चुनाव प्रक्रिया की निष्पक्षता और पारदर्शिता पर सवाल उठाए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: दफ्तर दरबारी: आईएएस ने बनाई ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया के प्रिय मंत्री से दूरी, अंधेरे में हैं भाई साहब

मधुसूदन मिस्त्री ने सांसदों को जवाब देते हुए लिखा कि मैं आपकी चिंता को समझ सकता हूं और पार्टी को मजबूत करने, कांग्रेस अध्यक्ष का स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव कराने के आपके इरादे की सराहना करता हूं। एक बार नामांकन पर हस्ताक्षर कर मुख्य रिटर्निंग अधिकारी को सौंप दिए जाने के बाद, उन्हें डेलिगेट्स की पूरी सूची मिल जाएगी।

साथ ही उन्होंने कहा, 'यदि कोई विभिन्न राज्यों के दस समर्थकों से नामांकन चाहता है, तो सभी 9000+ प्रतिनिधियों की सूची AICC, दिल्ली में मेरे कार्यालय में 20 सितंबर (सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे) से 24 सितंबर को नामांकन दाखिल करने से पहले उपलब्ध होगी। वे आ सकते हैं और सूची से अपने 10 समर्थकों (डेलिगेट्स) को चुन सकते हैं और नामांकन के लिए उनके (डेलिगेट्स) हस्ताक्षर करा सकते हैं।'

मिस्त्री ने अपने पत्र में यह भी कहा, 'मुझे उम्मीद है कि इससे आप और अन्य सहयोगी संतुष्ट होंगे। मैं शशि जी का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने आज मुझे फोन किया और मुझसे बातचीत की।' वहीं मधुसूदन के इस कदम का स्वागत करते हुए शशि थरूर ने ट्वीट किया कि मुझे खुशी है कि हमारे पत्र के जवाब में यह कदम उठाया गया है। मैं इससे संतुष्ट हूं। चुनाव प्रक्रिया में इस कदम से कईयों को खुशी होगी, मेरे विचार में इससे पार्टी को मजबूती मिलेगी।