EC ने शिवसेना के सिंबल को किया फ्रिज, अब बाघ हो सकता है उद्धव गुट का नया चुनाव चिन्ह

चुनाव आयोग ने 'धनुष-बाण' चुनाव चिन्ह को अपने अगले फैसले तक फ्रीज कर लिया है, उद्धव गुट ने संकेत दिया कि वे बाघ को अपना चुनाव चिन्ह रख सकते हैं

Updated: Oct 09, 2022, 11:07 AM IST

EC ने शिवसेना के सिंबल को किया फ्रिज, अब बाघ हो सकता है उद्धव गुट का नया चुनाव चिन्ह

मुंबई। शिवसेना में उद्धव गुट और शिंदे गुट को लेकर चल रही लड़ाई के बीच चुनाव आयोग ने शिवसेना के चुनाव चिन्ह ‘तीर-धनुष’ को फ्रीज कर दिया है। इलेक्शन कमीशन के इस फैसले से उद्धव गुट और शिंदे गुट दोनों को झटका लगा है। चुनाव आयोग के इस फैसले के बाद अब न तो उद्धव ठाकरे ग्रुप और ना ही एकनाथ शिंदे ग्रुप दोनों में से कोई भी इस चुनाव निशान का इस्तेमाल कर पाएंगे।

चुनाव आयोग ने अपने अंतरिम आदेश में कहा है कि शिवसेना के चुनाव निशान को दोनों में से किसी भी ग्रुप को इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं मिलेगी। अंधेरी ईस्ट के उप चुनाव से पहले दोनों गुट को अब नया चुनाव निशान लाना होगा। शिवसेना के दोनों गुटों को 10 अक्टूबर की दोपहर एक बजे तक अपने-अपने चुनाव चिन्ह आयोग में प्रस्तुत करने होंगे, जिसके बाद दोनों पक्ष नए चुनाव चिन्ह के लिए अपनी-अपनी प्राथमिकताओं के बारे में बता सकेंगे।

इस बीच उद्धव ठाकरे के करीबी सहयोगी मिलिंद नार्वेकर ने एक ट्वीट में अपने गुट के ‘चुनाव चिन्ह’ के बारे में हिंट दिया है। उन्होंने बाघ के चेहरे की एक तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा, ‘हमारा चिन्ह उद्धव बालासाहेब ठाकरे।' ऐसे में माना जा रहा है कि ठाकरे गुट चुनाव बाघ को चुनाव चिन्ह बनाने की तैयारी में है।

इलेक्शन सिंबल के मुद्दे पर चुनाव आयोग के आदेश के बाद उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे ने अपने-अपने गुटों की आज बैठक बुलाई है। उद्धव ठाकरे अपने विधायकों और नेताओं के साथ दोपहर 12 बजे मातोश्री में और एकनाथ शिंदे अपने खेमे के साथ शाम 7 बजे वर्षा बंगले पर बैठक करेंगे।