PM मोदी ने एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डे का किया शिलान्यास, नोएडा में 30 हजार करोड़ रुपए में बनेगा वर्ल्ड क्लास एयरपोर्ट

दुनिया का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा, यहां एक साथ खड़े हो सकेंगे 178 एयरक्राफ्ट, निर्माण में 29 हजार 650 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान

Updated: Nov 25, 2021, 03:03 PM IST

PM मोदी ने एशिया के सबसे बड़े हवाई अड्डे का किया शिलान्यास, नोएडा में 30 हजार करोड़ रुपए में बनेगा वर्ल्ड क्लास एयरपोर्ट
Photo Courtesy: Twitter

नोएडा। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी लगातार नई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास कर रहे हैं। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री ने आज नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (जेवर एयरपोर्ट) का शिलान्यास किया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, '21वीं सदी का नया भारत आज एक से बढ़कर एक बेहतरीन आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है।'

पीएम मोदी ने इस दौरान विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि, 'आजादी के 7 दशक बाद, पहली बार UP को वो मिलना शुरू हुआ है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है। डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से, आज उत्तर प्रदेश देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में परिवर्तित हो रहा है। आजादी के इतनों सालों तक तो उत्तर प्रदेश को ताने सुनने के लिए मजबूर कर दिया गया था, कभी जातिवादी के ताने, कभी अपराधी माफिया राजनीति गठजोड़ के ताने, लोगों के यही सवाल थे कि क्या कभी यूपी की सकारात्मक छवि बन पाएगी की नहीं।'

यह भी पढ़ें: फिर विकास की चोरी करते पकड़े गए सीएम योगी, साउथ इंडिया के बांध का ले लिया क्रेडिट

प्रधानमंत्री के मुताबिक, 'बेहतर सड़कें, बेहतर रेल नेटवर्क, बेहतर एयरपोर्ट ये सिर्फ इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स ही नहीं होते बल्कि ये पूरे क्षेत्र का कायाकल्प कर देते हैं, लोगों का जीवन पूरी तरह से बदल देते हैं।' इस दौरान नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भारत के पास अगले 10 वर्षों में हवाई यात्रा में शीर्ष पर पहुंचने की क्षमता है। उन्होंने कहा आज देश के लिए बहुत बड़ा दिन है। 

जानकारी के मुताबिक साल 2024 तक जेवर एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएगा और यहां से उड़ानें शुरू हो जाएंगी। यह एयरपोर्ट दुनियाभर का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। भारत में भी इतना बड़ा कोई दूसरा एयरपोर्ट नहीं है। इसी के साथ उत्तर प्रदेश भी देश में सर्वाधिक 5 इंटरनेशनल एयरपोर्ट वाला राज्य बन जाएगा।

यह भी पढ़ें: हर मोर्चे पर फेल रही है मोदी सरकार, BJP सांसद ने रिपोर्ट कार्ड जारी कर अपनी ही सरकार को घेरा

जेवर एयरपोर्ट की खासियत यह है कि यहां एक साथ 178 एयरक्राफ्ट्स खड़े हो सकेंगे। यह एयरपोर्ट आगरा, मेरठ, मथुरा, गाजियाबाद, नोएडा, अलीगढ़, बुलंदशहर, हाथरस समेत पश्चिम यूपी और ब्रज क्षेत्र के करीब 30 जिलों को जोड़ेगा। बताया जा रहा है कि एयरपोर्ट बनने के ऐलान के बाद से ही इलाके की जमीनें कीमती बढ़ गई है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह एयरपोर्ट कुल 6200 हेक्टेयर जमीन में बन रहा है। इसमें दो टर्मिनल और 5 रनवे होंगे। हाल ही में सीएम योगी आदित्यनाथ कहा चुके हैं कि इस हवाई अड्डे के निर्माण से करीब 1 लाख लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है। बहरहाल रोजगार की सच्चाई तो भविष्य में ही पता चलेगी। लेकिन इस एयरपोर्ट के जरिए बीजेपी को चुनावी उड़ान मिलने की उम्मीद जरूर है।