Sanjay Raut: क्या महाराष्ट्र में भाभीजी पापड़ खाने से ठीक हो रहा है कोरोना

Parliament Monsoon Session 2020: बीजेपी सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे ने कोरोना के लिए शिवसेना सरकार को कहा था दोषी, संजय राउत का पलटवार

Updated: Sep 17, 2020, 11:39 PM IST

Sanjay Raut: क्या महाराष्ट्र में भाभीजी पापड़ खाने से ठीक हो रहा है कोरोना
Photo Courtsey: Zeenews

नई दिल्ली। संसद में मॉनसून सेशन के चौथे दिन यानी गुरुवार (17 सितंबर) को संजय राउत ने बीजेपी को करारा जवाब दिया है। शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने सदन में कार्यवाही के दौरान केंद्र सरकार और बीजेपी पर तंज कसते हुए भाभीजी पापड़ का जिक्र किया है। राउत ने कहा, 'महाराष्ट्र में अबतक कोरोना महामारी से कई लोग ठीक हो चुके हैं। क्या वे भाभीजी पापड़ खाकर ठीक हो रहे हैं?

दरअसल, बीजेपी सांसद लगातार महाराष्ट्र सरकार पर कोरोना को काबू में करने में विफल बताया जा रहा था।  बुधवार को बीजेपी सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे ने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर जमकर हमला बोला था और कहा था कि महाराष्ट्र में देशभर में सबसे ज्यादा मामले आ रहे हैं। बीजेकी सांसद के इस बयान पर गुरुवार को संजय राउत ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा, 'मैं सदस्यों से पूछना चाहता हूं कि इतने लोग कैसे ठीक हुए? क्या सभी लोग भाभीजी पापड़ खाकर ठीक हो गए? यह एक राजनीतिक लड़ाई नहीं बल्कि लोगों के जीवन बचाने की लड़ाई है।'

Click: Arjun Meghwal पापड़ से कोरोना ठीक करने वाले मंत्री पॉजिटिव

शिवसेना नेता ने आगे बताया कि उनकी मां और भाई भी कोरोना संक्रमित हैं और वे कोरोना से लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, 'धारावी में आज स्थिति नियंत्रण में है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी बीएमसी के प्रयासों की तारीफ की है। केंद्र सरकार ने 1 सितंबर से पीपीई किट, मास्क व अन्य जरूरी स्वास्थ्य सामग्रियों के लिए पैसा रोक दिया है जिससे महाराष्ट्र सरकार पर प्रतिदिन 50 करोड़ की अतिरिक्त बोझ बढ़ गए है। पीएम केयर्स फंड राज्यों के लिए नहीं है क्या?'

Click: Coronavirus पापड़, हवन, ताली, थाली से कोरोना भगाने वाले खुद हुए शिकार

राउत ने देश के आर्थिक हालातों को लेकर भी केंद्र सरकार को जमकर खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने कहा, 'नोटबंदी और कोविड-19 महामारी के वजह से देश की अर्थव्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है। हमारी जीडीपी से लेकर रिजर्व बैंक तक की स्थिति खस्ताहाल है। आरबीआई कंगाल हो चुकी है ऐसे में सरकार एयर इंडिया, रेलवे, एलआईसी और काफी कुछ बाजार में बेचने के लिए ला रही है। बहुत बड़ा सेल लगी है।'