पश्चिम बंगाल में नहीं होंगी 10वीं-12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाएं, ममता सरकार का एलान

ममता बनर्जी सरकार का फ़ैसला, दसवीं और बारहवीं के छात्र-छात्राएं अब सीधे बोर्ड परीक्षाओं में बैठ सकेंगे

Updated: Nov 11, 2020, 07:28 PM IST

पश्चिम बंगाल में नहीं होंगी 10वीं-12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाएं, ममता सरकार का एलान
Photo Courtesy : Gulf News

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने राज्य में दसवीं और बारहवीं की प्री बोर्ड परीक्षाओं पर रोक लगा दी है। बंगाल में दसवीं और बारहवीं में पढ़ने वाले छात्र अब सीधे आगे साल होने वाली बोर्ड परीक्षाओं में बैठ सकेंगे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस फैसले का एलान प्रेस कॉन्फ्रेंस करके किया।

ममता बनर्जी ने कहा कि 'राज्य सरकार का ये फैसला पश्चिम बंगाल सेकेंडरी और पश्चिम बंगाल हायर सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड के छात्रों पर लागू होगा। 10वीं और 12वीं छात्र सीधे 2021 में होने वाले बोर्ड परीक्षा में बैठ सकेंगे।' ममता सरकार ने यह एलान ऐसे समय में किया है जब सीबीएसई द्वारा दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं को लेकर कार्यक्रम में बदलाव किए जाने की चर्चा ज़ोरों पर है। 

हालांकि बंगाल सरकार ने परीक्षाओं को स्थगित करने के पीछे कोरोना का हवाला दिया है। लेकिन ममता सरकार के इस फैसले को राज्य में अगले साल होने वाले चुनावों से जोड़कर देखा जा रहा है। यहाँ गौर करने वाली बात है कि बुधवार को ही राज्य में लोकल ट्रेनों का परिचालन भी शुरू हुआ है। मार्च महीने से ही लोकल ट्रेनों का परिचालन बंद था। राज्य में कोरोना की स्थिति की बात करें तो अब पश्चिम बंगाल में 3,72,265 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जबकि 7,403 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है।