JP Naddda : डोकलाम के समय Rahul Gandhi चीनी राजदूत से मिलते थे

Rahul Gandhi 2017 : 'मैं वह शख्स नहीं हूं जो तब झूले पर बैठा रहा जब हजारों की संख्या में चीनी सैनिक भारत में घुस आए थे।’

Publish: Jun 26, 2020 02:52 AM IST

JP Naddda : डोकलाम के समय Rahul Gandhi चीनी राजदूत से मिलते थे

Madhya Pradesh में आयोजित बीजेपी की वर्चुअल रैली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर आक्रामक होते हुए कहा कि सन 2017 में डोकलाम स्टैंडऑफ के समय राहुल गांधी चीनी राजदूत के साथ गुपचुप मुलाक़ात करते हैं और उनकी पार्टी देश को इस पर गुमराह करती है। नड्डा ने कहा कि राजीव गांधी फाउंडेशन को चीनी दूतावास से डोनेशन मिला था।

नड्डा ने कहा कि मैं यह जानकर हैरान हूं कि राजीव गांधी फाउंडेशन को वर्ष 2005-06 के दौरान पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चीन और चीनी दूतावास से 300 करोड़ अमेरिकी डॉलर चंदा मिले थे। इस पैसे से ये लोग स्टडी करते हैं और चीन के पक्ष में माहौल बनाते हैं। नड्डा ने इस दौरान राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा कि भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद के दौरान वह गुप्त रुप से दिल्ली में चीनी राजदूत से बातचीत करते थे और आज भी गलवान घाटी विवाद के दौरान वह देश को गुमराह कर रहे हैं। हालांकि नड्डा जिस बातचीत की बात कर रहे हैं उसे कांग्रेस ने भी पुष्टि की थी।

दरअसल, 8 जुलाई 2017 को पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी ने चीनी राजदूत से मुलाकात की थी। इस दौरान राहुल ने ट्वीट कर कहा था कि महत्वपूर्ण मुद्दों पर जानकारी लेना मेरा काम है।

उन्होंने उस दौरान सरकार से सवाल पूछे थे कि अगर चीनी राजदूत के साथ मेरी मुलाकात को लेकर वे इतनी ही चिंतित है, तो इन्हें इस बात का जवाब भी देना चाहिए कि जब सीमा पर विवाद है तो क्‍यों 3 मंत्री चीन की यात्रा पर हैं? उन्होंने पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की झूले पर बैठे एक तस्वीर साझा करते हुए कहा था, 'मैं वह शख्स नहीं हूं जो तब झूले पर बैठा रहा जब हजारों की संख्या में चीनी सैनिक भारत में घुस आए थे।’