ब्रिसबेन टेस्ट में भी सिराज को झेलनी पड़ी नस्लीय टिप्पणियां, वॉशिंगटन सुंदर को भी नहीं बख्शा

ब्रिसबेन के गाबा मैदान में सिराज को कुछ दर्शकों ने कीड़ा कह डाला, पिछले मैच में दर्शकों ने मंकी कहा था

Updated: Jan 15, 2021, 05:43 PM IST

ब्रिसबेन टेस्ट में भी सिराज को झेलनी पड़ी नस्लीय टिप्पणियां, वॉशिंगटन सुंदर को भी नहीं बख्शा
Photo Courtesy : Telangana Today

ब्रिस्बेन। ऑस्ट्रेलिया के ब्रिस्बेन में खेले जा रहे बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के चौथे टेस्ट के पहले दिन एक बार फिर मोहम्मद सिराज को नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा। स्टेडियम में मौजूद कुछ अभद्र दर्शकों ने सिराज को लगातार आपत्तिजनक शब्द कहने शुरू कर दिए। इतना नहीं, दर्शकों ने अपना पहला टेस्ट मैच खेलने उतरे वॉशिंगटन सुंदर को भी नहीं बख्शा। सिराज के साथ-साथ वॉशिंगटन सुंदर के खिलाफ भी नस्लीय टिप्पणियां की गईं। 

यह भी पढ़ें : सिराज के खिलाफ लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी, दर्शकों को पुलिसकर्मियों ने स्टेडियम के बाहर किया

ऑस्ट्रेलियन मीडिया के मुताबिक ब्रिसबेन टेस्ट के पहले दिन मोहम्मद सिराज जब बाउंड्री लाइन पर फील्डिंग कर रहे थे, तो उनके पीछे बैठे कुछ दर्शकों ने सिराज के विरुद्ध आपत्तिजनक भाषा का उपयोग करना शुरू कर दिया। सिराज के खिलाफ लगातार नस्लीय टिप्पणियां की जाने लगीं। दर्शकों के एक समूह ने सिराज को कीड़ा कह डाला। इस घटना का वीडियो अब वायरल हो गया है। खुद सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड के पत्रकार सैम फिलिप्स ने यह वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया है। 

हालांकि वीडियो में देखने से यह समझ में आ रहा है कि सिराज इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि उनके पीछे बैठे दर्शक उनके खिलाफ टिप्पणियां कर रहे हैं। क्योंकि जब एक दर्शक पीछे से सिराज को आवाज़ लगाता है उस समय किसी नस्लीय टिप्पणी की कोई आवाज़ नहीं आती। सिराज दर्शकों का अभिवादन करते हैं और फिर अपनी फील्डिंग पर फोकस करने लग जाते हैं। चूंकि सिराज को उस समय यह समझ नहीं आया कि उनके ऊपर एक बार फिर नस्लीय टिप्पणी की जा रही है, शायद इसीलिए अब तक भारतीय टीम की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

यह भी पढ़ें: नस्लवादी टिप्पणी बर्दाश्त नहीं, सिराज को मंकी बोले जाने पर बरसे कोहली

यह इस सीरीज में तीसरी मर्तबा हुआ है जब सिराज पर अभद्र टिप्पणी की गई है। इससे पहले सिडनी टेस्ट के तीसरे और चौथे दिन भी सिराज के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की गई थी। उस समय भारतीय टीम ने इसकी शिकायत ऑन फील्ड अंपायर से की थी जिसके बाद दर्शकों के समूह को स्टेडियम के बाहर निकाल दिया गया था। इस घटना के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने भी इसकी निंदा की थी। और जांच करने का आश्वासन दिया था। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी कहा था कि मैदान में इस तरह की हरकत को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। इसके बावजूद गाबा के मैदान पर सिराज के साथ हुई बदसलूकी समझ से परे है।