Sourav Ganguly: युवा खिलाड़ियों की मदद कर सकता हूं, विवाद के बाद बोले सौरव गांगुली

Shreyas Iyer: श्रेयस अय्यर के बयान के बाद उपजे विवाद पर सौरव गांगुली ने कहा, श्रेयस अय्यर को टीम के मेंटर रहते ही दी थी सलाह, किसी भी युवा खिलाड़ी को कभी भी सलाह देने के लिए हैं स्वतंत्र

Updated: Sep-29, 2020, 04:13 PM IST

Sourav Ganguly: युवा खिलाड़ियों की मदद कर सकता हूं, विवाद के बाद बोले सौरव गांगुली
Photo Courtesy : Catch news

नई दिल्ली। बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर के बयान के बाद पनपे विवाद को लेकर सफाई दी है। गांगुली ने कहा है कि पिछले वर्ष जब वे दिल्ली कैपिटल्स के मेंटर थे। तब उन्होंने श्रेयस अय्यर की मदद की थी। जो कि किसी भी तौर पर हितों के टकराव के दायरे में नहीं आता। 

दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने हाल ही में स्टार स्पोर्ट्स को दिए अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि रिकी पॉन्टिंग और सौरव गांगुली ने उन्हें एक खिलाड़ी और कप्तान के तौर पर निखारने में अहम भूमिका निभाई है। अय्यर के बयान पर विवाद बढ़ गया। लोग पूछने लगे कि सौरव गांगुली बीसीसीआई अध्यक्ष के पद पर रहते हुए किसी फ्रेंचाइजी के लिए खेलने वाले खिलाड़ी की मदद कैसे कर सकते हैं। सौरव गांगुली पर हितों के टकराव के आरोप लगने लगे। 

और पढ़ें : IPL 2020: सौरव गांगुली की तारीफ करना श्रेयस अय्यर को पड़ा भारी

सोमवार को सौरव गांगुली ने एक कार्यक्रम के दौरान स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि उन्होंने पिछले सीज़न के दौरान ही टीम के मेंटर के तौर पर श्रेयस अय्यर की सहायता की थी। हालांकि गांगुली ने आगे यह बात भी जोडते हुए कहा कि यह बात किसी को नहीं भूलनी चाहिए कि बीसीसीआई अध्यक्ष होने के अलावा मैंने लगभग 500 मैच खेले हैं। लिहाज़ा वो चाहे श्रेयस हों या कोहली, मैं किसी भी युवा खिलाड़ी की मदद कर सकता हूं।