धमकियों के बाद बढ़ाई गई सलमान खान की सिक्योरिटी, भाईजान को मिली Y+ सुरक्षा कवर

महाराष्ट्र सरकार की तरफ से बॉलीवुड स्टार सलमान खान की सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है। अब उन्हें Y+ कैटेगरी की सिक्योरिटी दी गई है। वहीं, अक्षय कुमार और अनुपम खेर की भी सिक्योरिटी बढ़ाई गई है।

Updated: Nov 01, 2022, 04:27 PM IST

धमकियों के बाद बढ़ाई गई सलमान खान की सिक्योरिटी, भाईजान को मिली Y+ सुरक्षा कवर

मुंबई। बॉलीवुड के सुपरस्टार सलमान खान को महाराष्ट्र सरकार की तरफ से Y+ कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है। उन्हें लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जान से मारने की धमकी मिली थी। रैपर और सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के पीछे लॉरेंस बिश्नोई गैंग का ही हाथ था। ऐसे में अब धमकियों के बीच सलमान खान की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

सलमान के साथ-साथ महाराष्ट्र सरकार ने अक्षय कुमार और अनुपम खेर की भी सुरक्षा बढ़ाई है। उन्हें X कैटेगरी की सिक्योरिटी मिली है। इसी साल 29 मई को पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला को हमलावरों ने मौत के घाट उतार दिया था। घटना के थोड़े ही दिन बाद सलमान खान और उनके पिता सलीम खान को एक धमकी से भरा लेटर मिला। इसमें लिखा था कि सलमान का सिद्धू मूसेवाला जैसा हाल करेंगे। लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्यों को जब पुलिस ने अरेस्ट किया तो उन्होंने सलमान को धमकाने की बात कुबूल की। इसके बाद एक्टर को पुलिस सुरक्षा दी गई।

यह भी पढ़ें: गांधी के कारण आपको दुनियाभर में सम्मान मिलता है, मानगढ़ में पीएम मोदी से बोले अशोक गहलोत

रिपोर्ट्स के मुताबिक, गैंगस्टर ने सलमान खान को दो बार निशाना बनाने की साजिश भी रची थी। एक बार साल 2017 में उनके जन्मदिन पर। दूसरी बार साल 2018 में पनवेल फार्महाउस में। हालांकि, दोनों बार हत्यारों की मंशा सफल नहीं हो पाई। सलमान खान को पहले मुंबई पुलिस की तरफ से सुरक्षा मिल रही थी। अब Y+ कैटेगरी सुरक्षा मिलने के बाद उनके साथ दो कमांडो और दो पीएसओ मौजूद रहेंगे। सलमान के साथ 11 जवान हर समय उनकी सुरक्षा के लिए उनके साथ खड़े रहेंगे।

सलमान खान के अलावा महाराष्ट्र सरकार ने अक्षय कुमार और अनुपम खेर को X कैटेगरी की सिक्योरिटी दी है। अब उनकी सुरक्षा में तीन जवान मौजूद रहेंगे। अनुपम खेर की मूवी 'द कश्मीर फाइल्स' जब रिलीज हुई थी, तब उन्हें धमकी मिली थी। वहीं, अक्षय कुमार को उनकी नागरिकता के लिए सोशल मीडिया पर धमकियां मिलती हैं। इन फिल्म स्टार्स को जो सिक्योरिटी मुहैया करवाई गई है, उसका खर्च वो लोग खुद उठाएंगे। सरकार नहीं।