जाको राखे साइयां मार सके ना कोय, व्हेल के मुंह से 40 सेकेंड बाद जिंदा निकले अमेरिका के माइकल

अमेरिका के एक गोताखोर माइकल को व्हेल ने निगल लिया, लेकिन 40 सेकेंड के भीतर ही माइकल अपनी हिम्मत और सूझबूझ के बल पर व्हेल के मुंह से बाहर निकल आए, फिलहाल वे डॉक्टर की निगरानी में हैं, उनका स्वास्थ्य ठीक है

Updated: Jun 12, 2021, 05:45 PM IST

जाको राखे साइयां मार सके ना कोय, व्हेल के मुंह से 40 सेकेंड बाद जिंदा निकले अमेरिका के माइकल
Photo Courtesy: ThoughtCo

मौत के मुंह से बाहर निकलना,  यह कहावत अमेरिका के माइकल पैकर्ड पर पूरी तरह फिट बैठती है। वे अमेरिका के मैसाच्युसेट्स के निवासी है। शुक्रवार 11 जून को एक बेदह आश्चर्य जनक घटना हुई। 56 वर्षीय माइकल समुद्र में करीब 35 फीट की गहराई में थे। तभी उन्हें एक विशालकाय व्हेल फिश ने निगल लिया। माइकल करीब 40 सेकंड तक व्हेल के मुंह में ही रहे। लेकिन थोड़ी देर में व्हेल ने उल्टी कर दी जिससे माइकल बाहर आ गए। फिर किसी तरह उनकी जान बच गई। यह दुनिया में अपनी तरह का पहला मामला है जब किसी व्हेल के मुंह से कोई जिंदा वापस लौटा हो।

 

माइकल पैकर्ड करीब चार दशकों से लॉबस्टर डाइवर के तौर पर कार्य कर रहे हैं। वे अमेरिका के समुद्रों में मछलियों और अन्य जलीय जीवों को पकड़ते हैं। इसे बेचकर वे अपना गुजारा करते हैं। 11 जून को वे मैसाच्युसेट्स के Herring Cove Beach में मछली पकड़ने गए थे , तभी व्हेल ने उन्हें निगल लिया।  एक पल को तो माइकल को लगा की अब उनकी मौत निश्चित है, लेकिन चंद सेंकड में वे दोबारा पानी में थे, व्हेल ने उल्टी करके उन्हें मुंह से बाहर गिरा दिया था। माइकल का कहना है कि जब वे व्हेल के मुंह में थे तो उनकी आंखों के सामने अंधेरा छा गया था। उन्हें दबाव महसूस हो रहा था, पर वे होश में थे।  उनका कहना है कि उन्हें लग रहा था कि अब तो उनकी मौत निश्चित है, उस दौरान उन्हें अपने दोनों बेटों का चेहरा याद आ रहा था।

माइकल पूरे होश में थे, जैसे ही उन्हें लगा की मछली का दांत उन्हें नहीं चुभा है, और ना ही किसी तरह की चोट लगी है, तब उन्होंने अपने सिर को जोर-जोर हिलाना शुरू कर दिया। जिसका धक्का व्हेल को लगने लगा। उनकी कोशिश थी कि किसी तरह व्हेल मुंह खोले और वे व्हेल के मुंह से बाहर निकल सकें। व्हेल के मुंह से निकलने की उनकी कोशिश रंग लाई। व्हेल अपना सिर हिलाने लगी। और करीब 40 सेकेंड्स की मशक्कत के बाद व्हेल ने माइकल को उगल दिया, जिससे वे बाहर आ गए। फिर उनके साथियों ने तत्परता दिखाते हुए उन्हें समुद्र से बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल माइकल अस्पताल में डाक्टरों की निगरानी में हैं।

माइकल के साथ हुई घटना के चर्चे पूरी दुनिया में हो रहे हैं। यह अपनी तरह का पहला मामला है जब कोई मौत के मुंह से निकलकर बाहर आया है। अपने साथ हुई इस घटना के बारे में माइकल का कहना है कि ‘पहली बात यह कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि मैं वहां से बाहर कैसे निकल गया। दूसरा फिर मैंने खुद को देखा कि मुझे कहीं चोट तो नहीं आई है।’ 

माइकल के साथ हुई इस घटना के बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि संभवत; व्हेल या तो अभी छोटी होगी, या फिर उसकी गलती की वजह से व्हेल का मुंह खुल गया और माइकल बच गए। यह अपने आप में अनूठी घटना है। ऐसा दुनिया में शायद  पहले कभी नहीं हुआ है।