रेमडेसीवीर की कालाबाजारी से जनता त्रस्त, BJP MLA को गुटखा की चिंता, कांग्रेस बोली- डूब मरो

मध्यप्रदेश बीजेपी के विधायक ने राजश्री गुटखा की कालाबाजारी रोकने के लिए कलेक्टर को लिखा पत्र, कांग्रेस बोली दिन-ब-दिन नजरों से गिरते जा रहे भाजपाई

Updated: Apr 19, 2021, 05:24 PM IST

रेमडेसीवीर की कालाबाजारी से जनता त्रस्त, BJP MLA को गुटखा की चिंता, कांग्रेस बोली- डूब मरो

टीकमगढ़। मध्यप्रदेश में कोरोना के खौफनाक रूप ने चारों ओर मौत का तांडव मचा रखा है। प्रदेश में ऑक्सीजन और रेमडेसीवीर इंजेक्शन की भयंकर किल्लत है। माफियाओं ने आपदा को अवसर बनाते हुए रेमडेसीवीर की कालाबाजारी शुरू कर दी है और पीड़ित मुहंमांगी रकम देने को मजबूर हैं। इन सब के बीच बीजेपी के एक विधायक ने राजश्री गुटखा की कालाबाजारी को लेकर चिंता जताई है। बीजेपी नेता ने बाकायदा कलेक्टर को पत्र लिखकर गुटखे की कालाबाजारी रोकने की मांग की है।

गुटखा को लेकर चिंता व्यक्त करने वाले ये नेता मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक राकेश गिरी गोस्वामी हैं। गोस्वामी ने कलेक्टर को संबोधित पत्र में लिखा है कि, 'कोविड- 19 की इस विषम परिस्थिति में लॉकडाउन तथा कर्फ्यू लगे होने के कारण जूली जैन द्वारा मौके का नाजायज फायदा उठाते हुए राजश्री गुटखा की कमी बताकर व्यापक स्तर पर मनमाने दामों पर कालाबाजारी की जा रही है।

गोस्वामी ने आरोप लगाया कि, 'जूली द्वारा पूरे बाजार में यह झूठी अफवाह फैलाई जा रही है कि राजश्री गुटखा की एजेंसी टीकमगढ़ विधायक राकेश गिरि के पास आ गई है, विधायक के द्वारा ही मनमाने दामों पर राजश्री गुटखा की बिक्री की जा रही है।' बीजेपी नेता ने कहा कि बाजार में फैली इस अफवाह से जनमानस के बीच मेरी छवि धूमिल हो रही है। बीजेपी विधायक ने टीकमगढ़ कलेक्टर से मांग की है कि जैन के स्टॉक और गोदामों पर छापा मारकर सख्त कानूनी कार्रवाई किया जाए।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बावजूद आदिवासी ज़िलों में शराब की दुकानें खोलने का निर्देश दे रही है शिवराज सरकार

कांग्रेस ने बीजेपी विधायक के इस पत्र को लेकर सत्तारूढ़ पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि डूब मरो विधायक जी। यूथ कांग्रेस ने नेशनल सेक्रेटरी शेष नारायण ओझा ने ट्वीट किया, 'गंभीरता देखिए, जब देश मे हाहाकर मचा हुआ है, तब मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ में एक महानुभाव विधायक ऐसे भी हैं जिन्हें राजश्री गुटका की कालाबाज़ारी की चिंता है, खैर इनका इतिहास रहा है मुद्दे की चीज़ पर से नज़र हटाकर यहाँ वहां ध्यान लगाते हैं। डूब मारिये विधायक जी।' 

कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने लिखा कि, 'अरे कौन है ये आदमी? लोगों को ऑक्सीजन नही मिल रही, ये गुटखा लिए फिर रहे हैं। लोग तड़प रहे हैं, मर रहे हैं, ये राजश्री के पाउच गिन रहे हैं। ये भाजपाई, दिन-ब-दिन नज़रों से गिर रहे हैं।' 

सोशल मीडिया यूजर्स भी बीजेपी विधायक के इस पहल को लेकर खूब मजे ले रहे हैं। ट्वीटर यूजर पीयूष मिश्रा ने ट्वीट किया, 'भाजपा विधायक हो तो ऐसा जो अपनी प्रजा की सबसे ज़रूरी चीज़ 'राजश्री गुटखा' के लिए जंग लड़ रहा है.. उसे मरीज, अस्पताल, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर जैसे चीजों के लड़ना ज़रूरी नही लगता?' 

यह वाकई चिंताजनक स्थिति है कि संकट के इस दौर में मध्यप्रदेश में जब बड़ी संख्या में लोग इलाज के अभाव में मर रहे हैं, अस्पतालों में बेड्स उपलब्ध नहीं हैं, ऑक्सीजन की भयंकर किल्लत है, रेमडेसीवीर इंजेक्शन की मारामारी है तब स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ करने के बजाए सत्तारूढ़ पार्टी के विधायक को सबसे ज्यादा चिंता किसी चीज की है तो वह राजश्री गुटखा है।