इंदौर: RSS कार्यालय में तिरंगा भेंट करने पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ता, भाजपा नेताओं को निशुल्क दे रहे राष्ट्रध्वज

कांग्रेस कार्यकर्ता जब संघ दफ्तर में निशुल्क राष्ट्रध्वज भेंट करने पहुंचे तो जवाब में संघ के पदाधिकारियों ने उन्हें पुस्तक और दिए भेंट किए

Updated: Aug 13, 2022, 02:12 PM IST

इंदौर: RSS कार्यालय में तिरंगा भेंट करने पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ता, भाजपा नेताओं को निशुल्क दे रहे राष्ट्रध्वज

इंदौर। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर एक तरफ जहां बीजेपी कार्यालयों में तिरंगे की बिक्री हो रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस कार्यकर्ता निशुल्क राष्ट्रध्वज का वितरण कर रहे हैं। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए इंदौर में शनिवार को कांग्रेस कार्यकर्ता राष्ट्रध्वज लेकर आरएसएस कार्यालय पहुंच गए और संघ के पदाधिकारियों को निशुल्क तिरंगा भेंट किया।

शहर कांग्रेस द्वारा शनिवार काे सुबह 9.30 बजे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के रामबाग स्थित अर्चना कार्यालय पर तिरंगा भेंट किया गया। अर्चना कार्यालय में किसी तरह का विवाद उत्पन्न न हो इसके लिए भरी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया था। हालांकि, शांतिपूर्ण तरीके से कांग्रेसियों ने वहां तिरंगा भेंट किया। इस दौरान सौहार्दपूर्ण चर्चा भी हुई। बताया जा रहा है कि तिरंगा भेंट करने के लिए कांग्रेस की ओर से बकायादा संघ कार्यालय पर पत्र प्रेषित किया गया था।  

शहर कांग्रेस प्रवक्ता विवेक खंडेलवाल ने बताया की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पूरा देश अमृत महोत्सव के रूप में मना रहा है। कांग्रेस का हर घर झंडा, घर घर झंडा अभियान तीन चरणों में पूरा हो चुका है। इस दौरान कांग्रेस द्वारा स्थानीय बीजेपी सांसद शंकर लालवानी, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, भाजपा के विधायक, प्रवक्ता सहित शहर के कई गणमान्य नागरिकों को निशुल्क राष्ट्रध्वज भेंट किया जा चुका है।

खंडेलवाल के मुताबिक इसी चरण में आज 13 अगस्त को आरएसएस मुख्यालय अर्चना कार्यालय पर कांग्रेस द्वारा निशुल्क राष्ट्रध्वज भेंट किया गया। हेडगेवार स्मारक समिति के अध्यक्ष ईश्वर हिंदुजा को शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल द्वारा राष्ट्रीय ध्वज भेंट किया गया। इसके बदले में अर्चना कार्यालय (संघ मुख्यालय) द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल को पुस्तक भेंट किया गया। साथ ही 14 अगस्त को रात्रि में अपने निवास, प्रतिष्ठान पर दीप जलाने के लिए दीपक और बाती भी संघ कार्यालय ने कांग्रेस नेताओं को भेंट की।