इंदौर: दिग्विजय सिंह ने किया ईडी दफ्तर का घेराव, बोले- स्वतंत्रता संग्राम में BJP ने नाखून तक की कुर्बानी नहीं दी

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह के साथ जिला कोर्ट से प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय तक पैदल मार्च करते हुए विरोध किया, इस दौरान भरी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे

Updated: Jul 21, 2022, 05:27 PM IST

इंदौर: दिग्विजय सिंह ने किया ईडी दफ्तर का घेराव, बोले- स्वतंत्रता संग्राम में BJP ने नाखून तक की कुर्बानी नहीं दी

इंदौर। नेशनल हेराल्ड से जुड़े मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ देशभर में व्यापक विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। मध्य प्रदेश के इंदौर में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ईडी दफ्तर का घेराव किया। इस दौरान सिंह ने कहा कि बीजेपी ने स्वतंत्रता संग्राम में नाखून तक की कुर्बानी नहीं दी।

दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को राघौगढ़ विधायक जयवर्धन सिंह के साथ जिला कोर्ट से प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय तक पैदल मार्च करते हुए विरोध किया। पालिका प्लाजा स्थित कार्यालय पर दिग्विजय सिंह के साथ युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने जमकर नारेबाजी की। इस दौरान कांग्रेस पार्टी के महिला कार्यकर्ता सोनिया गांधी का मुखौटा पहनकर पहुंची थीं। भारी पुलिसबल की मौजूदगी के बीच ईडी कार्यालय के बाहर देर तक कांग्रेस का प्रदर्शन जारी रहा।

यह भी पढ़ें: सोनिया गांधी से ED ने ढ़ाई घंटे की पूछताछ, कश्मीर से कन्याकुमारी तक कांग्रेस का प्रदर्शन, 75 सांसद गिरफ्तार

राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने इस दौरान कहा कि, 'यह पूरा मामला राजनीतिक प्रतिद्वंदिता का है। इस मामले में एक पैसे की हेराफेरी नहीं हुई। किसी नियम- कानून का उल्लंघन नहीं हुआ। फिर भी माहौल बनाया जा रहा है, जिसकी हम घोर निंदा करते हैं। यह वह गांधी परिवार है, जिसके हर सदस्य ने आजादी की लड़ाई में शहादत दी है। चाहे इंदिरा गांधी हों, चाहे उनके माता-पिता हों, चाहे दादा-दादी, सब अंग्रेजो के खिलाफ लड़ते हुए जेल गए और उसके बाद गांधी परिवार के दो-दो लोग देश के लिए शहीद हुए।'

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि, 'भाजपा के लोग क्या जानें, जिन्होंने आजादी की लड़ाई में नाखून तक की कुर्बानी नहीं दी। गांधी परिवार न पहले दबा और झुका है ना ही आगे दबेगा, झुकेगा। इसलिए हम सब लोग उनके साथ खड़े हैं और जी जान से उनका साथ देंगे।' बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने बुधवार को करीब तीन घंटे पूछताछ की। ईडी ने सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए 25 जुलाई को फिर बुलाया है।