बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं के कारण मर रहे हैं लोग, लेकिन शिवराज केवल नौटंकी करने में व्यस्त, कमलनाथ का शिवराज सरकार पर हमला

कमल नाथ ने बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं से हो रही मौतों के लिए मुख्यमंत्री तो ठहराया ज़िम्मेदार, कहा, यह अवसर निर्णय लेने का है लेकिन शिवराज जनता ध्यान भटकाने में व्यस्त हैं

Updated: Apr 08, 2021, 06:05 PM IST

बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं के कारण मर रहे हैं लोग, लेकिन शिवराज केवल नौटंकी करने में व्यस्त, कमलनाथ का शिवराज सरकार पर हमला

भोपाल। प्रदेश में कहीं दवा, कहीं ऑक्सीजन तो कहीं इंजेक्शन की कमी के कारण लोगों की मौत हो रही है। प्रदेश में लगातार हो रही मौतों के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने मौजूदा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज़िम्मेदार ठहराया है। कमल नाथ ने शिवराज पर हमला बोलते हुए कहा है कि एक तरफ राज्य में मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ते ही जा रहा है लेकिन शिवराज अपनी नौटंकी करने में ही मग्न हैं। 

यह भी पढ़ें : ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं होने के कारण बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में 9 लोगों की मौत, अस्पताल में भर्ती 13 बच्चों को किया गया शिफ्ट

पीसीसी चीफ कमल नाथ ने कहा है कि मध्यप्रदेश के अस्पतालों में इस समय न तो पर्याप्त बेड हैं, मरीज़ों के लिए दवा भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है। लोगों को इंजेक्शन नहीं मिल रहे हैं और मौत का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। लेकिन शिवराज सिंह चौहान की नौटंकी अब भी जारी है। कमल नाथ ने सागर और दमोह में ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों का उल्लेख करते हुए कहा है कि एक तरफ लोग मर रहे हैं, जनता तड़प रही है लेकिन दूसरी तरफ प्रदेश में लूट खसोट जारी है।  

कमल नाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज को आड़े हाथों लेते हुए पूछा है कि मुख्यमंत्री को यह बताना चाहिए कि उनके मिंटो हॉल की 24 घंटे की नौटंकी से प्रदेश का क्या भला हुआ? प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं में क्या सुधार हुआ। कमल नाथ ने कहा कि आज अवसर है लोगों की जान बचाने का, बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को ठीक करने का, लोगों की परेशानियों को दूर करने का लेकिन, मुख्यमंत्री अपनी नौटंकी में ही व्यस्त हैं। कमल नाथ ने कहा है कि प्रदेश शिवराज को इस नौटंकी के लिए कभी माफ़ नहीं करेगी। 

यह भी पढ़ें :बीजेपी में जाने के बाद सिंधिया ने नहीं कराया किसानों का कर्जा माफ, कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने साधा सिंधिया पर निशाना

दरअसल इस समय इंदौर, भोपाल सहित प्रदेश भर में कोरोना का फैलाव बड़ी तेज़ी से बढ़ रहा है। रेमडेसिविर  इंजेक्शन की भी भारी किल्लत से लोग जूझ रहे हैं। दूसरी तरफ इंजेक्शन की कालाबाज़ारी बढ़ रही है। अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की भी भारी कमी है। इन सभी परेशानियों के बीच कोरोना का संकट लगातार विकराल रूप लेते जा रहा है। हालांकि राज्य की शिवराज सरकार लॉक डाउन लगा कर प्रदेश में कोरोना को रोकने की एकमात्र लेकिन भरपूर कोशिश कर रही है।