नाले के बाद अब स्कूल का टॉयलेट साफ करने पहुंचे ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर

अपने विधानसभा क्षेत्र में अक्सर साफ-सफाई करने पहुंचते हैं ऊर्जा मंत्री तोमर, इसबार कन्या प्राथमिक स्कूल में साफ किया टॉयलेट, नाले में कूदकर बटोर चुके हैं सुर्खियां

Updated: Dec 17, 2021, 12:43 PM IST

नाले के बाद अब स्कूल का टॉयलेट साफ करने पहुंचे ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर

ग्वालियर। अपने अजीबोगरीब कारनामों को लेकर चर्चा बटोरने वाले मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। नाले में फावड़ा लेकर कूदने से लेकर बिजली के खम्भों पर चढ़ने तक वे अपनी पब्लिसिटी के लिए कोई कसर नहीं छोड़ते। इस बार इलाके के एक कन्या स्कूल का टॉयलेट साफ करते हुए उनका वीडियो वायरल हो रहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार सुबह प्रधुम्न सिंह तोमर अपने दल बल के साथ ग्वालियर शहर का निरीक्षण करने निकले थे। इस दौरान वे सीधे अपने विधानसभा क्षेत्र में स्थित कन्या प्राथमिक स्कूल के टॉयलेट देखने पहुंचे। यहां के टॉयलेट में उन्हें काफी गंदगी मिली। 

यह भी पढ़ें: सिंधिया ने ट्विटर पर नितिन गडकरी से मांगी माफी, 3 साल पहले गडकरी को किया था माफी मांगने पर मजबूर

इस दौरान उनके साथियों ने तत्काल टॉयलेट क्लीनर की व्यवस्था की। लेकिन मंत्रीजी स्वयं क्लीनर लेकर इसके ऑनकैमरा टॉइलेट साफ करने में जुट गए। बताया जा रहा है कि टॉइलेट में पेड़ों की जड़ें लटक रही थी जिसे स्वयं मंत्रीजी ने हाथ से तोड़ा टॉयलेट की सफाई की। इसके बाद उन्होंने पानी से बाथरूम परिसर को भी साफ किया। 

मौके से ही ऊर्जा मंत्री ने कलेक्टर और जिला शिक्षा अधिकारी को भी फोन मिलाया। तोमर ने अधिकारियों को फटकारते हुए निर्देश दिया कि आगे से जिले के किसी भी स्कूल में साफ-सफाई की कमी नहीं होनी  वरना जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी।मंत्री जी ने स्कूल में छात्राओं से उनका हाल चाल भी जाना और उन्हें मास्क पहनाया।

यह भी पढ़ें: खंडहर हो रहा रानी कमलापति का गिन्नौरगढ़ किला, विपक्षी विधायकों को हकीकत देखने जाने से रोका

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब ऊर्जा मंत्री तोमर इस तरह से सुर्खियों में रहे हों। वे मंत्री रहते कई बार फावड़ा लेकर नाले में कूद पड़े हैं। सफाई के बाद वे हर बार मौके से ही अधिकारियों को फटकार भी लगाते हैं। ऊर्जा मंत्री होने के नाते वे बिजली के खंभे पर भी चढ़ चुके हैं। दूसरी ओर कांग्रेस तोमर की इस हरकत को पब्लिसिटी स्टंट करार दे रही है।