मध्य प्रदेश लागू करने जा रहा है नई स्टार्टअप नीति, पीएम मोदी करेंगे शुभारंभ, युवा होंगे लाभांवित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम 7 बजे कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होंगे, इस दौरान स्टार्टअप पर आधारित एक लघु फ़िल्म का प्रदर्शन भी किया जाएगा

Updated: May 13, 2022, 12:57 PM IST

मध्य प्रदेश लागू करने जा रहा है नई स्टार्टअप नीति, पीएम मोदी करेंगे शुभारंभ, युवा होंगे लाभांवित

इंदौर। पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार को मध्य प्रदेश की नई स्टार्टअप नीति लॉन्च करने जा रहे हैं। इंदौर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित होने वाले स्टार्टअप कॉन्क्लेव- 2022 में प्रधानमंत्री वर्चुअली शामिल होंगे। मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बनने जा रहा है, जो अपनी स्टार्टअप पॉलिसी लागू कर रहा है। पीएम मोदी स्टार्टअप पोर्टल की शुरुआत भी करेंगे। कार्यक्रम में शामिल होने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर जाएंगे। इस कार्यक्रम में 500 से ज्यादा स्टार्टअप के अलावा कॉलेज के छात्र-छात्राएं भी शामिल होंगे।

यह भी पढ़ें: 2018-19 में 51000 सरकारी स्कूल हुए बंद, दिग्विजय सिंह ने कहा- बताएँ, भाजपा गरीब विरोधी है या नहीं?

इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा कि "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की प्रेरणा से मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बनने जा रहा है, जो अपनी स्टार्टअप पॉलिसी लागू कर रहा है। आपके कर कमलों से इसकी लॉन्चिंग हम सभी के लिए सौभाग्य का विषय है।" 

 

इस कार्यक्रम में सरकारी और निजी क्षेत्र के नीति निर्माता, इनोवेटर्स, केंद्र और राज्य के अधिकारी स्टार्टअप्स, संभावित उद्यमी, निवेशक, मेंटर्स  शिक्षाविद, स्टार्टअप इको-सिस्टम के सभी स्तंभ और जन-प्रतिनिधि शामिल होंगे। कार्यक्रम में शामिल होने सीएम शिवराज 4 बजे इंदौर पहुंचेंगे, शाम 5 बजे तक एमएसएमई के सचिव पी. नरहरि एमपी स्टार्टअप नीति की ब्रीफिंग और प्रजेंटेशन देंगे। सीएम शिवराज 6 बजे चुनिंदा स्टार्टअप्स की सफलता की कहानियों का संग्रह भी जारी करेंगे।

यह भी पढ़ें: रायपुर एयरपोर्ट पर लैंडिंग से पहले हेलीकॉप्टर क्रैश, पायलट और को पायलट की मौत, सीएम ने जताया दुःख

सीएम के उद्बोधन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम 7 बजे कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होंगे। इस दौरान स्टार्टअप पर आधारित एक लघु फ़िल्म का प्रदर्शन भी किया जाएगा। रिमोट बटन से मध्यप्रदेश स्टार्टअप पॉलिसी से लाभांवित होने वाले युवाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करेंगे। प्रधानमंत्री स्टार्टअप पोर्टल का भी शुभारंभ करेंगे। वे राज्य के चुनिंदा 3 स्टार्टअप्स के साथ बातचीत करेंगे, जिनमें शॉप किराना, उमंग श्रीधर डिजाइन प्राइवेट लिमिटेड और ग्रोमोफ़ोन के संचालक शामिल हैं। 

 

सम्मेलन में कई अलग-अलग सत्र रखे गए हैं।कॉन्क्लेव में सुबह 11 बजे से स्टार्टअप्स, शैक्षणिक संस्थानों और स्टार्टअप स्पेस के प्रमुखों के साथ संवाद कर स्पीड मेंटरिंग-सत्र होगा। दोपहर 12 बजे से जानकारी दी जाएगी कि कैसे नए स्टार्टअप शुरू करें और चुनौतियों का सामना कैसे करें। दोपहर 1 बजे से फंडिंग-सत्र शुरू होगा।  इसमें स्टार्टअप और संभावित उद्यमी टियर-I और टियर-II शहरों में फंडिंग के कई तरीकों के बारे में जानकारी लेंगे। 

यह भी पढ़ें: लोग यूँ ही नहीं परेशान, खुदरा महंगाई दर 8 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंची, महंगाई से जनता कर रही त्राहि-त्राहि

दोपहर 2:45 बजे से पिचिंग-सत्र में स्टार्टअप निवेशकों के साथ सहयोग के अवसर प्राप्त करने के साथ फंडिंग के लिए अपने आइडिया को रखेंगे. दोपहर 3:50 बजे स्टार्टअप के इकोसिस्टम सपोर्ट-सत्र में प्रतिभागी उनकी ब्रांड वेल्यू और एमपी स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के बारे में जानेंगे।