बीजेपी सांसद का आपत्तिजनक बयान, जैकलिन के साथ फोटो दिखा कमलनाथ को बताया 'कमरनाथ'

MP By Elections: बीजेपी के इंदौर सांसद शंकर लालवानी की महिलाओं के बारे में यह कैसी सोच, AIIFA अवॉर्ड्स की तस्वीर दिखाकर ओछी टिप्पणी करना क्या जैकलिन का अपमान नहीं, कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की शिकायत

Updated: Oct 22, 2020, 07:44 PM IST

बीजेपी सांसद  का आपत्तिजनक बयान, जैकलिन के साथ फोटो दिखा कमलनाथ को बताया 'कमरनाथ'
Photo Courtesy : Dainik bhaskar

इंदौर। मध्य प्रदेश उपचुनाव का दिन जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियां अलग-अलग मुद्दे को उछाल रही है। हालिया मामला इंदौर का है जहां बीजेपी सांसद ने अब आइफा अवार्ड्स सेरेमनी को मुद्दा बनाने का प्रयास किया है। इंदौर सांसद शंकर लालवानी ने कमलनाथ की जैकलीन के साथ तस्वीर दिखाते हुए उन्हें कमरनाथ कहा है।  

गुरुवार को मीडिया को संबोधित करते हुए लालवानी ने कहा, 'कल सांवेर में जनसंपर्क के दौरान हमारी एक बहन मिली, जो डॉक्टरी की पढ़ाई कर रही हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व सीएम का नाम कमलनाथ है। इसके बाद उन्होंने मुझे एक फोटो दिखाई और कहा कि ये कमलनाथ जी नहीं बल्कि, कमरनाथ जी हैं। इसके बाद बीजेपी नेता ने बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन के साथ कमलनाथ की तस्वीर दिखाते हुए कहा, 'आप भी देख लो इनका हाथ कहां पर है। जैकलीन की कमर पर हाथ है।'

कांग्रेस ने चुनाव आयोग में की शिकायत

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने शंकर लालवानी की कमलनाथ पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के खिलाफ राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत की है।कांग्रेस ने राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को दी अपनी शिकायत में कहा है कि इंदौर के बीजेपी सांसद लालवानी ने इंदौर में आयोजित पत्रकार वार्ता में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को लेकर अशोभनीय टिप्पणी की है। कांग्रेस ने कहा कि प्रदेश में संपन्न होने जा रहे 28 विधानसभाओं के उपचुनाव के चलते आदर्श आचार संहिता लागू है और इस दौरान किसी व्यक्ति पर व्यक्तिगत टिप्पणी, झूठी टिप्पणी, अभद्र और अशोभनीय टिप्पणी करना पूरी तरह प्रतिबंधित है। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से इस मामले में उचित कार्रवाई की मांग की है। 

और पढ़ें: आइटम कहने से दुखी इमरती देवी ने कमलनाथ की मां बहन को कहे अमर्यादित शब्द

अलग सिंधी राज्य की मांग से मुकरे

लालवानी इस दौरान अलग सिंधी राज्य की अपनी मांग से मुकर गए। मीडिया द्वारा इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'मैंने उसी दिन स्पष्ट कर दिया था और बताया था कि मैंने कभी अलग सिंधी राज्य की मांग नहीं की। उसी दिन मैने लोगों से माफी भी मांग ली थी।' लालवानी के इस बयान पर कांग्रेस ने कहा है कि बीजेपी की पुरानी रीति और नीति रही है अपने बातों से पलटना। पहले कुछ भी बोलना और बाद में पलट जाना।'

बता दें कि बीते दिनों लालवानी के लोकसभा ने दिए उस बयान का वीडियो वायरल हो रहा था जिसमें उन्होंने अलग सिंधी राज्य बनाने की मांग की थी। लेकिन लालवानी की इस मांग के बाद उनके समाज के लोग ही उनके खिलाफ हो गए थे। चौतरफा, आलोचना झेल रहे लालवानी ने बाद में इसके लिए माफी मांग ली थी।