MP Congress : भाजपा चीन का साथ दे रही है

एमपी कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा भाजपा चीन के पक्ष में काम कर रही है

Publish: Jun 29, 2020 02:12 AM IST

MP Congress : भाजपा चीन का साथ दे रही है

मध्य प्रदेश की कांग्रेस इकाई ने आज चीन के मसले पर प्रेस वार्ता करते हुए बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी चीन का कांग्रेस और कमल नाथ की छवि को बदनाम करने की आड़ में चीन का पक्ष ले रही है। कांग्रेस ने अपनी प्रेस वार्ता में कहा कि चीन का पक्ष भाजपा इस कदर ले रही है कि चीन के विश्वासघात पर पर्दा डालने के लिए झूठे तथ्यों का सहारा लेकर कांग्रेस और पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की छवि पर आघात किया जा रहा है। 

मध्य प्रदेश की कांग्रेस इकाई ने चीन के साथ सीमा पर जारी तनातनी और बीजेपी द्वारा कांग्रेस पार्टी और पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के ऊपर लगाए जा रहे आरोपों के ऊपर प्रेस वार्ता की। प्रेस वार्ता में पीसीसी अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा, राष्ट्रिय कांग्रेस के मीडिया समन्वयक अभय दुबे और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने शिरकत की।


कमल नाथ के ऊपर लगाए आरोपों पर किया पलटवार 

कांग्रेस ने अपनी प्रेस वार्ता में भाजपा नेताओं द्वारा कमल नाथ को चीनी एजेंट बताए जाने पर पलटवार करते हुए बताया कि कमल नाथ ने वाणिज्य मंत्री रहते हुए देश के हितों की रक्षा की। प्रेस वार्ता में कांग्रेस ने कहा कि 2004 से 2009 के बीच कमलनाथ ने देश के वाणिज्य मंत्री रहते हुए न सिर्फ भारत के व्यापार को वैश्विक ऊँचाई पर पहुँचा दिया अपितु भारत के किसानों और व्यापार को संरक्षण देने के लिए उनकी सराहना विपक्ष ने भी की है । कांग्रेस ने बीजेपी पर पलटवार करते हुए कहा कि कमल नाथ  ने वाणिज्य मंत्री रहते हुए हमेशा से भारत के उद्योगों के हित को ध्यान में रखा है । कमल नाथ के कार्यकाल के दौरान चीनी कम्पनियों द्वारा भारत के बाजार को अनैतिक तरीके से प्रभावित न किया जा सके इसलिए निरन्तर एन्टीडम्पिंग के केस दर्ज किये जाते थे । कमल नाथ  के कार्यकाल के दौरान फार्मास्युटिकल कन्जूमर गुड्स फाइबर और यान इत्यादि 96 से 100 के बीच प्रकरणों में लगातार जाँच की जाती थी और केस दर्ज किये जाकर भारत के उद्योग और छोटे कारोबारियों को संरक्षण दिया जाता था। 


बीजेपी ने देश को 60 साल पीछे धकेल दिया 

रविवार को हुई प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर देश को 60 साल पीछे धकेलने का आरोप लगाया। प्रेस वार्ता में कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी के 6 वर्षों के कार्यकाल में सीमा की सुरक्षा, अर्थव्यवस्था, रोज़गार, सामाजिक तानाबाना, संवैधानिक संस्थाएं से लेकर खेती किसानी तक सब खतरे में पड़ गई है। कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि आज चीन भारत की सीमाओं में अंदर तक घुस आया है हर मोदी सरकार भारत की सुरक्षा, संप्रभुता और अस्मिता से समझौता कर के चीन के पक्ष में खड़ी हो गई है।

प्रधानमंत्री और पूरी बीजेपी चीन के पक्ष में, शिवराज भी शामिल

एमपी कांग्रेस की प्रेस वार्ता के दौरान अभय दूबे, नरेंद्र सलूजा और जीतू पटवारी ने बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री के सर्वदलीय बैठक के दौरान दिए गए बहुचर्चित और विवादित बयान को लेकर सवालिया निशाना खड़ा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने भारतीय सीमा में चीनी घुसपैठ की स्थिति को नकारते हुए चीन के पक्ष में बयान दे दिया। जिसके बाद विवाद इतना बढ़ गया कि खुद प्रधानमंत्री कार्यालय को प्रधानमंत्री के इस बयान से मुंह मोड़ना पड़ गया। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री ने सीमा की सभी स्थितियों को नकारते हुए शहीद और घायल हुए जवानों का अपमान किया है। ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री मोदी ने 19 जून को हुई सर्वदलीय बैठक में कहा था कि ' न ही कोई भारत की सीमा में मौजूद है, और न ही कोई वहां घुसा है '। इसके बाद से ही कांग्रेस पार्टी ने पीएम के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए पूछ रही है कि जब कोई हमारी सीमा में घुसा ही नहीं तो हमारे जवान शहीद कैसे हो गए ? हालांकि बाद में पीएमओ ने प्रधानमंत्री के बयान पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा था कि उनका बयान सीमा पर हिंसक झड़प के बाद के संदर्भ में था।

शिवराज चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ अपना रिश्ता बताएं

कांग्रेस ने मध्य प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया है कि मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान ने चीनी कंपनियों को एकतरफा लाभ पहुंचाने का काम किया। कांग्रेस ने 2016 में शिवराज सिंह चौहान की पांच दिवसीय चीनी यात्रा पर सवाल उठाते हुए कहा है कि उस दौरे का पूरा खर्च चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने क्यों उठाया था ? कांग्रेस ने पूछा है कि शिवराज सिंह चौहान और कम्युनिस्ट पार्टी के किन नेताओं के बीच क्या चर्चा हुई थी जिनके कहने पर उन्होंने प्रदेश में चीनी कम्पनियों को एकतरफा लाभ पहुंचाया। कांग्रेस ने कहा कि इसीलिए शिवराज सिंह चौहान ने इसीलिए चीन के समर्थन में ट्वीट करते हुए कहा था कि ' चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और बीजेपी में ज़बरदस्त समानता है।