गोरे चले गए पर चेले छोड़ गए, थरूर समेत आठ लोगों के ख़िलाफ़ देशद्रोह का केस दर्ज होने पर बरसे दिग्विजय सिंह

शशि थरूर, राजदीप सरदेसाई, मृणाल पांडे समेत आठ लोगों के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है, उन पर दंगा भड़काने की साजिश रचने का आरोप भी लगाया गया है

Updated: Jan 29, 2021, 04:06 PM IST

गोरे चले गए पर चेले छोड़ गए, थरूर समेत आठ लोगों के ख़िलाफ़ देशद्रोह का केस दर्ज होने पर बरसे दिग्विजय सिंह
Photo Courtesy:prabhasakshi

नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर, वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई औऱ मृणाल पांडे समेत आठ लोगों के खिलाफ देश द्रोह का मुकदमा किए जाने की तुलना अंग्रेज़ों की गुलामी के दौर से की है। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने इन मामले में बीजेपी पर करारा हमला बोलते हुए कहा है कि इस देश से गोरे तो चले गए, लेकिन अपने चेले छोड़ गए हैं।

आठ लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किए जाने की खबर को शेयर करते हुए उन्होंने ट्विटर पर लिखा है, "भाजपा वही कर रही है जो ब्रिटिश हुकूमत ने आज़ादी की लड़ाई में भारत की आज़ादी के लिए लड़ रहे सेनानियों के विरुद्ध किया था। Sedition का केस लगाया था। गोरे चले गए चेले छोड़ गए।" #गोरे_चले_गए_चेले_छोड़_गए #FarmersStandingFirm

दरअसल शशि थरूर, राजदीप सरदेसाई और मृणाल पांडे के अलावा कौमी आवाज़ के संपादक ज़फ़र आगा,  कारवां के संपादक परेशनाथ औऱ अनंतनाथ और एक अन्य अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इन सभी लोगों के खिलाफ देश द्रोह समेत कुल 11 धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें आईटी एक्ट की धारा 66 भी शामिल है। यह मामला नोएडा सेक्टर 20 में अभिजीत मिश्रा ने दर्ज कराया है। 

कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह ने कृषि कानूनो के विरोध में राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करने वाले 16 विपक्षी दलों से सड़कों पर उतरकर अपनी आवाज़ बुलंद करने की अपील भी की है। इतना ही नहीं, उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी पूछा है कि "आपने टिकैत जी के पक्ष में कंधे से कंधा मिला कर किसानों के लिए संघर्ष करने का वादा किया था अब कब करेंगे?"