टीएमसी नेता ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को बताया भगवा खेमे का भोंपू, अमित शाह से मुलाकात पर सवाल

जगदीप धनखड़ ने इस हफ्ते दो मर्तबा गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है, धनखड़ ने गुरुवार और शनिवार को अमित शाह से मुलाकात की, टीएमसी का आरोप है कि राज्यपाल बंगाल की जनता को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं

Updated: Jun 20, 2021, 10:41 PM IST

टीएमसी नेता ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को बताया भगवा खेमे का भोंपू, अमित शाह से मुलाकात पर सवाल
Photo Courtesy: Business Standard

नई दिल्ली/कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और अमित शाह के बीच हुई मुलाकातों को लेकर तृणमूल कांग्रेस ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को आड़े हाथों लिया है। राज्यसभा में टीएमसी के सचेतक सुधांशु शेखर ने कहा है कि जगदीप धनखड़ भगवा खेमे के भोंपू की तरह काम कर रहे हैं। टीएमसी नेता ने कहा है कि राज्यपाल लगातार बंगाल की जनता को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। 

इस हफ्ते अमित शाह से दो बार मिले चुके हैं धनखड़ 

जगदीप धनखड़ इस हफ्ते दिल्ली के पांच दिवसीय दौरे पर थे। अपने पांच दिवसीय दौरे पर उन्होंने गुरुवार और शनिवार को  गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। राज्यपाल की इन्हीं दो मुलाकातों को लेकर तृणमूल कंगेस ने निशाना साधा है। जगदीप धनखड़ ने पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था के बारे में अमित शाह से मुलाकात की है। 

यह भी पढ़ें : वैक्सीन लगवाएं- सस्ते भोजन पाएं, भोपाल के रेस्टोरेंट्स में वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाने पर बंपर डिस्काउंट

टीएमसी नेता ने कहा कि चुनाव परिणाम के बाद बंगाल में हुई छिटपुट घटनाओं को हिंसा करार दे रहे हैं। टीएमसी नेता ने कहा कि राज्यपाल जगदीप धनखड़ केंद्र के साथ मिलकर साजिश रच रहे हैं और दिल्ली दरबार में चक्कर लगा रहे हैं। टीएमसी नेता ने कहा कि राज्यपाल ऐसा कर के बंगाल की उस जनता को बदनाम कर रहे हैं, जिन्होंने ममता बैनर्जी को चुना है। 

यह भी पढ़ें : लोकसभा अध्यक्ष से मिलने के बाद चिराग ने बुलाई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

जगदीप धनखड़ को केंद्र की मोदी सरकार जुलाई 2019 में राज्यपाल बनाकर बंगाल भेजा था। इसके बाद से ही जगदीप धनखड़ और ममता सरकार के बीच अमूमन तकरार की खबरें आती रहती हैं। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने से पहले ममता सरकार और धनखड़ के बीच खींचतान अपने चरम पर पहुंच गई।