यूपी में राप्ती नदी में फेंका गया कोरोना पॉजिटिव का शव, पीपीई किट वाले राहगीरों से रहे बेपरवाह

उत्तरप्रदेश के बलरामपुर की घटना, भतीजे ने चाचा के शव को नदी में फेंका, युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

Updated: May 30, 2021, 09:20 PM IST

यूपी में राप्ती नदी में फेंका गया कोरोना पॉजिटिव का शव, पीपीई किट वाले राहगीरों से रहे बेपरवाह

बलरामपुर। कोरोना की दूसरी लहर ने उत्तरप्रदेश के ग्रामीण इलाकों में जमकर कहर बरपाया है। आलम ये है कि श्मशानों में जगह कम पड़ गई है और आर्थिक तंगी की वजह से लोगों अपने प्रियजनों के शव नदियों में फेंकने पर मजबूर हैं। ऐसा ही एक मामला बलरामपुर से आया है जहां एक भतीजा द्वारा अपने चाचा का मृत शरीर राप्ती नदी में फेंकने के बाद मामला तूल पकड़ लिया है।

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि पीपीई किट पहना एक युवक किसी व्यक्ति की मदद से शव को नदी में फेंक रहा है। इस दौरान कार से गुजरते हुए एक युवक उसका वीडियो बना लेता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वीडियो 29 मई की शाम का है। बलरामपुर जिले के कोतवाली नगर क्षेत्र के राप्ती नदी पर बने सिसई घाट पुल पर युवक का शव फेंका गया था। 

जिला प्रशासन के मुताबिक जांच के बाद पता चला है कि एल-टू अस्पताल में भर्ती प्रेमनाथ मिश्रा की देर शाम मौत हो गई थी। शनिवार दोपहर उनका भतीजा संजय शुक्ला शव को ले गया था। संजय ने शव को लेकर जाकर नदी में प्रवाहित कर दिया। अब इस मामले में पुलिस ने मृतक के भतीजे के खिलाफ महामारी अधिनियम व अन्य गंभीर धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। हालांकि, इस बात की जांच नहीं की जा रही की किन परिस्थितियों ने एक भतीजे को अपने चाचा का शव नदी में फेंकने पर मजबूर होना पड़ा।