शाहजहांपुर के बाद अब कानपुर में भी नींबू चोरी, दो हजार नींबू उड़ा ले गए चोर, कीमतों में बढ़ोतरी का असर

रुपए-जेवर छोड़ अब नींबू पर टूट पड़े हैं चोर, उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर के बाद अब कानपुर में भी नींबू चोरी की घटना, कीमतों में इजाफा होने के बाद चोरों ने बदल लिया है टारगेट

Updated: Apr 13, 2022, 06:24 PM IST

शाहजहांपुर के बाद अब कानपुर में भी नींबू चोरी, दो हजार नींबू उड़ा ले गए चोर, कीमतों में बढ़ोतरी का असर

कानपुर। रुपये, जेवरात की चोरियों के बारे में तो अक्सर खबरें आती रहती हैं, लेकिन अब चोरों ने नींबू चोरी का धंधा शुरू कर दिया। बाजार में भाव बढ़ते ही अब नींबू ही चोरों की निगाह में चढ़ी हुई है। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर के बाद अब कानपुर से भी नींबू चोर की घटना सामने आई है। यहां चोरों ने करीब दो हजार नग नींबू पर हाथ साफ कर लिया।

दरअसल, ठेलों पर मारा-मारा फिरने वाला अदना सा नींबू इन दिनों बेशकीमती हो गया है। सेब, आम, अनार, तरबूज, अंगूर जैसे फलों ने भी कीमत के मामले में नींबू के आगे घुटने टेक दिए हैं। हाल ये है कि एक किलो नींबू 300 रुपए किलो वहीं एक नींबू 10 से पंद्रह रुपए में मिल रहा है।

यह भी पढ़ें: UP में अनोखी चोरी: गोदाम से 60 किलो नींबू उड़ा ले गए चोर, कीमतों में बढ़ोतरी का असर

कानपुर के शिवदीन पुरवा के अभिषेक निषाद ने बिठूर थाने में नींबू लूट की FIR लिखाने के लिए तहरीर दी है। इसके मुताबिक उनके तीन बीघा बगीचे में तीन दिन के अंदर चोर दो हजार नींबू तोड़कर ले गए। बाजार में इसकी कीमत करीब बीस हजार रुपए है। अभिषेक निषाद ने नींबू तैयार होने तक बाग में ही अपना बसेरा बना लिया है। 

चोरी की घटना सामने आने के बाद अन्य सभी नींबू किसानों ने भी बागीचों में रखवाली शुरू कर दी है। चौबेपुर, बिठूर कटरी, मंधना, परियर में करीब 2000 बीघा जमीन पर नींबू के बगीचे हैं। यह पहली बार है कि नींबू के बगीचों में रखवाली हो रही है। केयरटेकर एक-एक नींबू की गिनती कर रिकॉर्ड मेनटेन कर रहे हैं। कई बगीचा मालिकों ने तो लठैत हायर कर लिया है। 

बता दें कि इसके पहले शाहजहांपुर जिले के तिलहर क्षेत्र में बजरिया सब्जी मंडी में नींबू चोरी की घटना सामने आई थी। यहां चोरों ने एक गोदाम का ताला तोड़कर 60 किलो नींबू चुरा लिया था।