बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष ने फिर दी मारकाट की धमकी, बोले इतने घाव देंगे कि पट्टियां कम पड़ जाएंगी

पश्चिम बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने जनसभा के मंच से फिर दिया हिंसा भड़काने वाला बयान, इसके पहले भी वे टीएमसी के लोगों को पीट-पीटकर मार डालने की धमकी दे चुके हैं

Updated: Dec 27, 2020, 02:02 AM IST

बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष ने फिर दी मारकाट की धमकी, बोले इतने घाव देंगे कि पट्टियां कम पड़ जाएंगी
Photo Courtesy : new Indian Express

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने एक बार फिर से खुलेआम मारकाट मचाने की धमकी दी है। घोष ने टीएसमसी को धमकी देते हुए कहा है कि हमारे हाथ पैर पूरी तरह से ठीक हैं और हम इस तरह से जवाब देंगे कि घावों पर लगाने के लिए मरहम पट्टी कम पड़ जाएगी।

दरअसल, बीजेपी नेता शनिवार को साउथ 24 परगना में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, 'हम सभ्य लोग हैं, जो राजनीतिक मामलों को सभ्य तरीके से डील करते हैं। लेकिन हमारे हाथ और पैर अच्छी तरह काम कर रहे हैं। अगर हमें उनका इस्तेमाल करने के लिए मजबूर किया गया है तो हम ऐसा बदला लेंगे कि उनके (टीएमसी) पास जख्म भरने के लिए मरहम-पट्टी की कमी पड़ जाएगी।'

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी की हत्या करवा सकती है बीजेपी, पश्चिम बंगाल के मंत्री का दावा

उन्होंने आगे कहा कि अगले 4-5 महीने में पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बीजेपी का सीएम बैठेगा। अगर वे इस बात को नहीं पचा पा रहे हैं तो मैं उन्हें सलाह देता हूं कि वह होम्योपैथी दवाइयां लेना शुरू कर दें। दिलीप घोष ने इस दौरान सीधे तौर पर ममता बनर्जी या टीएमसी के किसी नेता का तो नाम नहीं लिया लेकिन उनका इशारा उसी ओर था। 

पहले भी दे चुके हैं हाथ-पैर तोड़ने से लेकर हत्या तक की धमकी

यह पहली बार नहीं है जब दिलीप घोष ने हिंसा भड़काने और मारकाट को जायज ठहराने वाला बयान दिया हो। इसके पहले वह खुलेआम टीएमसी कार्यकर्ताओं के हाथ-पैर तोड़ने, सिर फोड़ने से लेकर श्मशान भेजने तक की धमकी दे चुके हैं। बीते दिनों हल्दिया में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था, 'ममता दीदी के लोग शरारत करते हैं। वे सभी 6 महीने के भीतर खुद को ठीक कर लें। अन्यथा उनके हाथ, पैर, पसलियां और सिर तोड़ दिए जाएंगे। उन्हें घर जाने से पहले अस्पताल जाना होगा।' घोष इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि अगर उनकी शरारत बढ़ी है तो उन्हें श्मशान भेज दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: प. बंगाल बीजेपी अध्यक्ष का आपराधिक बयान, TMC के लोगों को दी हत्या की धमकी

बता दें कि बीजेपी लगातार ममता बनर्जी सरकार पर अपराधियों को संरक्षण देने व बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्याएं करवाने का आरोप लगाती रही है। बीते दिनों बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के काफिले पर पथराव के बाद भी बीजेपी ने बंगाल से लेकर दिल्ली तक काफी हंगामा किया था। ऐसे में सवाल यह है कि खुद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अगर इस तरह खुलेआम मारकाट मचाने की धमकियां देकर क्या हिंसा की संस्कृति को समर्थन नहीं दे रहे हैं?