साहब खाद दिला दो... चल हट्ट तू राष्ट्रपति है क्या, लाचार अन्नदाता को BJP मंत्री ने दुत्कारा

मंत्री जी से दबे आवाज में किसान ने लगाई खाद दिलाने की गुहार, सिंधिया के करीबी मंत्री ओपीएस भदौरिया ने दुत्कारा, बोले- चल हट्ट तू राष्ट्रपति है क्या? अपमान का घूंट पीकर वापस लौटा अन्नदाता

Updated: Oct 13, 2021, 06:21 PM IST

साहब खाद दिला दो... चल हट्ट तू राष्ट्रपति है क्या, लाचार अन्नदाता को BJP मंत्री ने दुत्कारा

भिंड। मध्य प्रदेश के भिंड, मुरैना समेत कई जिलों में खाद की भयंकर किल्लत है। मुरैना में किसानों को खाद के बदले लाठियां मिलने की खबर के बाद अब भिंड से एक ऐसी ही खबर आई है। यहां खाद दिलाने की गुहार लगाने पर मंत्री जी ने एक किसान को बुरी तरह से फटकारा। बताया जा रहा है कि सभी प्रयासों के बाद जब खाद नहीं मिली तो एक लाचार किसान मंत्री ओपीएस भदौरिया के पास गया था। लेकिन बदले में मंत्री ने क्या कहा ये आप वीडियो में सुन सकते हैं। 

मामला सिंधिया के चहेते मंत्री ओपीएस भदौरिया के विधानसभा क्षेत्र मेहगांव का है। जानकारी के मुताबिक मंत्री भदौरिया मंगलवार शाम सड़ा गांव के पास स्थित आजी माता मंदिर पर चल रही भागवत कथा में शामिल होने पहुंचे थे। यहां भीड़ में एक किसान ने दबी आवाज में मंत्री जी से खाद न मिलने की शिकायत करते हुए कहा कि साहब खाद दिला दो। किसान की इतनी सी बात पर मंत्री जी आग बबूला हो गए। 

यह भी पढ़ें: केंद्रीय कृषि मंत्री के क्षेत्र में किसानों की दुर्गति, घंटों धूप में खड़े रहे, फिर खाद के बदले मिली लाठियां

मंत्री भदौरिया ने चिल्लाते हुए कहा, 'चल हट्ट! दिखाई नहीं दे रहा है कि मैं कलेक्टर से बात कर रहा हूं? तमीज नहीं है? तू राष्ट्रपति है क्या?' बताया जा रहा है कि गुहार लगाने वाले किसान समेत वहां मौजूद अन्य सभी लोग मंत्री जी के गुस्से से सहम गए। इसके बाद लाचार किसान अपमान का घूंट पीकर लौट गया। सोशल मीडिया पर इस घटनाक्रम का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

अगली बार किसान कहेंगे चल हट्ट: केदार सिरोही

घटना का वीडियो सामने आने के बाद किसान नेता केदार शंकर सिरोही ने कहा है की अगली बार इन सत्ता के नशे में चूर नेताओं को किसान इसी तरह चल हट्ट कहेंगे। सिरोही ने कहा, 'कॉरपोरेट और पैसों के प्यार ने बीजेपी नेताओं के दिमाग में किसानों के लिए घृणा भर दिया है। लखीमपुर में मंत्री पुत्र ने किसानों को कुचलकर मार डाला, कुरुक्षेत्र में भी बीजेपी सांसद ने किसानों को रौंदने का प्रयास किया। अब एमपी के मंत्री चल हट्ट कह रहे हैं। मंत्री जी जान लें अबकी बार चल हट्ट बोलकर किसान जब आपको सत्ता से हटाएंगे, तब समझ आएगा तमीज क्या होती है।