कैबिनेट विस्तार से ठीक पहले मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और रविशंकर प्रसाद ने भी दिया त्याग पत्र

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और रविशंकर प्रसाद ने छोड़ा मंत्री पद, केंद्रीय कैबिनेट से इस्तीफा देने वाले मंत्रियों की संख्या 12 हुई, हर्षवर्धन, बाबुल सुप्रियो, प्रताप सारंगी, रतनलाल कटारिया, रमेश पोखरियाल निशंक, संतोष गंगवार, देबोश्री चौधरी, सदानंद गौड़ा, संजय धोतरे की पहले ही हो चुकी है छुट्टी

Updated: Jul 07, 2021, 06:01 PM IST

कैबिनेट विस्तार से ठीक पहले मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और रविशंकर प्रसाद ने भी दिया त्याग पत्र
Photo Courtesy: chaupal tv

दिल्ली। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की जिम्मेदारी सम्हालने वाले प्रकाश जावड़ेकर और कानून और आईटी मंत्रालय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। अब केंद्रीय कैबिनेट से इस्तीफा देने वाले मंत्रियों की संख्या 12 हो गई है।

इससे पहले  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौधरी, महिला बाल विकास मंत्री देबोश्री चौधरी, उर्वरक और रसायन मंत्री सदानंद गौड़ा, श्रम राज्य मंत्री संतोष गंगवार, शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे, बाबुल सुप्रियो, प्रताप सारंगी और रतन लाल कटारिया और राव साहब पाटिल  की भी कैबिनेट से छुट्टी हो गई है। थावरचंद गहलोत ने कर्नाटक का राज्यपाल बनाए जाने के बाद पद से त्यागपत्र दे दिया था।  

बुधवार शाम केंद्रीय कैबिनेट का विस्तार होने वाला है। जिसकी वजह से इस्तीफों का दौर चल पड़ा है। नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में होने वाले पहले बड़े विस्तार में कई नए चेहरों को मौका मिलने वाला है। जिसकी वजह से पुराने चेहरों से पद छीना जा रहा है।

बुधवार दोपहर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैबिनेट के संभावित मंत्रियों के साथ बैठक की। इस बैठक में ज्योतिरादित्य सिंधिया, नारायण राणे, अनुप्रिया पटेल, सर्बानंद सोनोवाल शामिल हुए। माना जा रहा है कि इस कैबिनेट विस्तार में तीन राज्य मंत्रियों का कद बढ़ सकता है, उनमें अनुराग ठाकुर, पुरुषोत्तम रुपाला और जी किशन रेड्डी के नाम हैं। प्रधानमंत्री के साथ बैठक में ये मंत्री भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री आवास पहुंचे वालों में आरसीपी सिंह, पशुपति पारस, मीनाक्षी लेखी, भूपेंद्र यादव, अजय भट्ट, कपिल पाटिल, अजय मिश्रा, भागवत कराड, डॉ. भारती पवार, शोभा करांदलाजे, सुनीता दुग्गल, शांतनु ठाकुर, अनुराग ठाकुर, पुरुषोत्तम रुपाला,जी किशन रेड्डी के नाम शामिल हैं।

और पढ़ें: महाकाल के दर्शन करने पहुंचे सिंधिया को दिल्ली से आया बुलाया, सभी कार्यक्रम रद्द कर दिल्ली रवाना

 खबर है कि इस कैबिनेट विस्तार में 43 नए चेहरों को  स्थान मिलने वाला है। संभावित मंत्रियों की लिस्ट राष्ट्रपति भवन भेजी जा चुकी है। इस लिस्ट में 11 महिलाएं शामिल हैं। कैबिनेट में 13 वकील और 6 इंजीनियर्स के होने की खबर है। इस कैबिनेट में मध्यप्रदेश से ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिल्ली से मीनाक्षी लेखी, अनुप्रिया पटेल, नारायण राणे, हिना गावित, सुनीता दुग्गल, पशुपति पारस को मंत्री पद मिलना तय माना जा रहा है। वर्तमान मोदी कैबिनेट में मंत्रियों की संख्या 53 थी, जबकि नियमानुसार केंद्रीय कैबिनेट में मंत्रियों की अधिकतम संख्या 81 हो सकती है।