गद्दारों को माफी नहीं, सख्त से सख्त सजा देंगे, महिला शिवसैनिकों की आंखों से छलके आंसू

मुंबई में शिवाजी पार्क स्थित शिवसेना दफ्तर के बाहर रोते दिखीं महिलाएं, कहा- ये गद्दार माफी के हकदार नहीं हैं, उन्हें सख्त से सख्त सजा दी जाएगी

Updated: Jun 22, 2022, 04:00 PM IST

गद्दारों को माफी नहीं, सख्त से सख्त सजा देंगे, महिला शिवसैनिकों की आंखों से छलके आंसू

मुंबई। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। बागी विधायकों से सुलह की तमाम कोशिशें नाकाम साबित होती दिख रही है। इसी बीच पार्टी के मुखिया उद्धव ठाकरे कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं। हालांकि, राज्यभर में शिवसैनिक इस सियासी संकट के समय में पार्टी सुप्रीमो के साथ एकजुट दिख रहे हैं।

बुधवार को भी शिवाजी पार्क स्थित शिवसेना भवन में कल जैसा ही नजारा देखने को मिला। यहां हजारों की संख्या में शिव सैनिक जुटे हुए हैं, और उद्धव ठाकरे के साथ एकजुटता का प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच कुछ महिलाएं ऐसी भी दिखीं जो इन हालातों के कारण फूट फूटकर रो रहीं थीं।

यह भी पढ़ें: Maharashtra political crisis live: उद्धव सरकार की कैबिनेट बैठक समाप्त, शाम पांच बजे सीएम हाउस पहुंचेंगे सभी MLA

शिवसेना के इन महिला कार्यकर्ताओं के पास जब मीडियाकर्मी पहुंचे तो उन्होंने बागी विधायकों के लिए स्पष्ट संदेश दिया। महिलाओं ने कहा कि गद्दारों को माफी नहीं मिलेगी, उन्हें सख्त से सख्त सजा दी जाएगी। ये गद्दार माफी के नहीं बल्कि सजा के हकदार हैं। उधर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ्तर पर हमला भी कर दिया है।

कल भी शिवसेना की महिला विंग से जुड़े लोग हाथों में तख्तियां लेकर पहुंचे थे जिसमें लिखा था "गद्दारों को माफी नहीं"। मुंबई दक्षिण महिला विंग की अध्यक्ष जयश्री बल्लीकर ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब शिवसेना को संकट का सामना करना पड़ा है, अतीत में भी कई अन्य लोग थे जिन्होंने पार्टी की 'पीठ में छुरा घोंपा। लेकिन देखिए, उनकी किस्मत क्या है। बालासाहेब ठाकरे से लेकर शिवसेना ने इन नेताओं के लिए बहुत कुछ किया है लेकिन अब उन्होंने अपने स्वार्थ के लिए शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को धोखा दिया है।