पंजाब कांग्रेस में शामिल हुए दो AAP विधायक, कैप्टन अमरिंदर सिंह की बड़ी सफलता

कैप्टन अमरिंदर सिंह गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस हाई कमान से मिलने वाले हैं, इससे पहले उन्होंने आप के दो विधायकों के साथ साथ पंजाब एकता पार्टी के नेता प्रधान सुखपाल खैरा को कांग्रेस में शामिल करा लिया है

Updated: Jun 03, 2021, 09:49 PM IST

पंजाब कांग्रेस में शामिल हुए दो AAP विधायक, कैप्टन अमरिंदर सिंह की बड़ी सफलता
Photo Courtesy: Indian Express

चंडीगढ़। पंजाब की सियासत में मचे घमासान के बीच मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मास्टर स्ट्रोक चल दिया है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आम आदमी पार्टी के दो विधायकों को कांग्रेस में शामिल करा लिया है। इसके साथ ही पंजाब एकता पार्टी के नेता प्रधान सुखपाल खैरा ने भी कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है। 

कांग्रेस में शामिल होने वाले आम आदमी पार्टी के दो विधायक जगदेव सिंह कमालू और पिरमल सिंह धौला हैं। जगदेव सिंह कमालू मौड़ जबकि पिरमल सिंह धौला भदौड़ विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के टिकट पर विधानसभा पहुंचे थे। अब इन नेताओं को पार्टी में शामिल करने के बाद से ही यह चर्चा चल पड़ी है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह का यह दांव दिल्ली में कांग्रेस हाई कमान के सामने उनकी छवि सुधारने में मददगार साबित होगा। 

यह भी पढ़ें : मैंने पार्टी हाई कमान को सच बताया है, दिल्ली में कांग्रेस पैनल से मिलने के बाद बोले सिद्धू

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू समेत पंजाब कांग्रेस के कई विधायकों से कांग्रेस पार्टी द्वारा गठित तीन सदस्यीय पैनल पहले ही चर्चा कर चुका है। गुरुवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को चर्चा के लिए दिल्ली बुलाया गया था। हालांकि वो नहीं आए लेकिन यह सब पंजाब कांग्रेस में लगातार मुख्यमंत्री के खिलाफ उठते बगावती सुर के कारण किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें : गौतम गंभीर फ़ाउंडेशन ने की कोविड-19 दवाइयों की अवैध जमाख़ोरी, ड्रग कंट्रोलर ने कोर्ट से कहा

बताया जा रहा है कि पंजाब कांग्रेस का खेमा इस समय नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के दो पाटों में बंट गया है। नवजोत सिंह सिद्धू और अमरिंदर सिंह के बीच नाराज़गी की खबरें भी पिछले कुछ वर्षों से आम हैं। बीते मंगलवार को ही जब नवजोत सिंह सिद्धू दिल्ली में कांग्रेस पैनल से मिले थे, तब पैनल से चर्चा करने के बाद सिद्धू ने मीडिया से कहा था कि पंजाब की जनता को उसकी ताकत उसे वापस देने के समय आ गया है।