जिस मुस्लिम युवक को पीटा गया, पुलिस ने उसके ही ऊपर दर्ज किया मुकदमा, सोशल मीडिया पर मचा बवाल

चूड़ी बेचने वाले युवक पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, पॉक्सो एक्ट के तहत उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है

Publish: Aug 24, 2021, 09:20 AM IST

जिस मुस्लिम युवक को पीटा गया, पुलिस ने उसके ही ऊपर दर्ज किया मुकदमा, सोशल मीडिया पर मचा बवाल

इंदौर। जिस मुस्लिम युवक की भीड़ ने बेरहमी से पिटाई की, अब पुलिस ने उसे ही आरोपी बना दिया है। इंदौर पुलिस ने भीड़ द्वारा पिटने वाले मुस्लिम युवक पर कुल 9 मामलों में मुकदमा दर्ज किया है। फरियादी को ही आरोपी बना देने के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है। 

इंदौर पुलिस ने सोमवार शाम को पीड़ित तस्लीम पर 9 गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। इनमें छेड़खानी सहित पॉक्सो एक्ट भी शामिल है। तस्लीम के खिलाफ यह मुकदमा एक नाबालिग छात्रा की शिकायत के आधार पर किया है। जिसके मुताबिक तस्लीम ने उसे छेड़ने और गलत तरीके से छूने की कोशिश की थी। 

तस्लीम पर गंभीर मामलों मुकदमा दर्ज होने के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है। सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग पीड़ित मुस्लिम युवक के समर्थन में खड़े हो गए हैं। लोगों का कहना है कि तस्लीम को फंसाने की साजिश रची जा रही है। इसके साथ ही लोग सोशल मीडिया पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का भी उनके बयान विरोध कर रहे हैं। जिसमें उन्होंने पूरे घटनाक्रम को लेकर कहा था कि युवक क्षेत्र में दो अलग अलग पहचान की आईडी लेकर घूम रहा था। 

यह भी पढ़ें : मुस्लिम युवक के साथ मारपीट करने वाले तीनों आरोपी गिरफ्तार, तीसरे को पुलिस ने ग्वालियर में पकड़ा

रविवार शाम से ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें कुछ लोग चूड़ी बेचने वाले एक मुस्लिम युवक को बेरहमी से पिटाई करते दिखाई दे रहे हैं। वीडियो के वायरल होने के बाद ही पिटाई करने वाले लोगों पर कार्रवाई की मांग तेज हो गई। जिसके अगले दिन पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। 

यह भी पढ़ें : चूड़ी बेचने वाले मुस्लिम युवक को भीड़ ने बुरी तरह से पीटा, वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

लेकिन अब पुलिस ने पीड़ित व्यक्ति को ही आरोपी बना दिया है। मुस्लिम युवक पर आरोप यह लगाया जा रहा है कि रक्षाबंधन के दिन वह चूड़ी बेचने के लिए एक घर में गया। और वहीं पर उसने एक नाबालिग लड़की से छेड़खानी करने की कोशिश की। नाबालिग बच्ची के शोर मचाने पर भीड़ इकट्ठा हो गई, जिसके बाद उसकी पिटाई के दौरान दो अलग अलग पहचान के आधार कार्ड और वोटर आईडी मिले।