Tripura BJP Crisis: त्रिपुरा बीजेपी में बगावत, आठ विधायकों ने सीएम बिप्लब देब के खिलाफ खोला मोर्चा

Revolt Against Biplab Deb: दिल्ली पहुंचे बागी विधायकों ने सीएम को बताया तानाशाह, अनुभवहीन और अलोकप्रिय

Updated: Oct 11, 2020 10:17 AM IST

Tripura BJP Crisis: त्रिपुरा बीजेपी में बगावत, आठ विधायकों ने सीएम बिप्लब देब के खिलाफ खोला मोर्चा
Photo Courtesy: Aaj Tak

नई दिल्ली। त्रिपुरा बीजेपी में मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के खिलाफ बगावत हो गई है। प्रदेश के आठ बीजेपी विधायकों ने सीएम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक ये सभी विधायक बिप्लब कुमार देब के खिलाफ अपनी शिकायतों पर बात करने के लिए राष्ट्रीय नेतृत्व से मिलना चाहते हैं, जिसके लिए उन्होने राजधानी दिल्ली में डेरा डाल दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक इन विधायकों का आरोप है कि मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब न सिर्फ तानाशाह और अनुभवहीन हैं, बल्कि वे लोगों के बीच अलोकप्रिय भी हो गए हैं।

और पढ़ें: छवियों में कैद समाज और नैतिकता की खुली हवा

बताया जा रहा है कि इन विधायकों का नेतृत्व सुदीप रॉय बर्मन कर रहे हैं। इनके अलावा सुशांत चौधरी, आशीष साहा, आशीष दास, दिवा चंद्र रंखल, बर्ब मोहन, परिमल देव और राम प्रसाद पाल भी बागी विधायकों के इस गुट में शामिल हैं। सुशांत चौधरी ने दावा किया है कि उनके साथ दो अन्य विधायक बीरेंद्र किशोर बर्मन और विप्लव घोष भी हैं, लेकिन वे कोरोना महामारी के कारण दिल्ली नहीं आ सके हैं।

और पढ़े: Anupam Hazra: कोरोना होने पर सीएम ममता बनर्जी को गले लगाऊंगा, कहने वाले बीजेपी नेता अनुपम हाजरा हुए पॉजिटिव

बीजेपी के इन बागी विधायकों ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की मांग की है। चौधरी ने कहा है कि हम पीएम मोदी से भी मुलाकात करेंगे और उन्हें इस बात से अवगत कराएंगे कि त्रिपुरा में क्या हो रहा है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को अंधेरे में नहीं रखा जा सकता है। उल्लेखनीय है कि त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब को प्रधानमंत्री मोदी का भरोसेमंद माना जाता है।

बीजेपी विधायकों के बगावत पर त्रिपुरा बीजेपी ने कहा है कि बिप्लब देब सरकार पर कोई संकट नहीं है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मानिक साहा ने कहा, 'त्रिपुरा की बीजेपी सरकार पूरी तरह सुरक्षित है। मैं यह भरोसा दिला सकता हूं कि साथ या आठ विधायक सरकार नहीं गिरा सकते हैं।' बता दें कि 60 विधानसभा सीटों वाले त्रिपुरा विधानसभा में बीजेपी के 36 विधायक हैं इसके अलावा पार्टी को सदन में अन्य विधायकों भी समर्थन का प्राप्त है।